Hindi Poem on Love – कैसे बताऊँ तुम मेरे दिल के कितने करीब हो

balloon-1046658_960_720

कैसे बताऊँ तुम मेरे दिल के कितने करीब हो
जो धरती पर जन्नत दिखा दे वही मेरे नसीब हो
तुम जो चलते हो लगता है हवा चली हो हल्की हल्की
तुम जो कुछ कह दो तो लगता है बजा हो गीत सुरीला
तुम्हारा रंग है गोरा जैसे हो मद्धम धूप
तुम्हारे बाल हैं काले जैसे हो घने जंगल
तुम्हारी आंखो के समुन्दर में डूबा रेहना चाहता हूँ
मुझे अपनालो तुम्हारा बन कर रेहना चाहता हूँ

Leave a Reply