Hindi Love Poem for Her-Dil Se Awaz Ayi Hai

दिल से आवाज़ आयी हैदिल से आवाज़ आयी हैजो कहा नहीं जाता वो सब बोलता है दिलशायद आँखों से पता लग जाये क्या कहता है दिलयार अजीब बात है इतनी याद आयी हैकि सोचते सोचते मेरी आंख भर आयी हैये मैं नहीं बोल रहाये तो दिल से आवाज़ आयी हैसुबह उठते ही आपको देखने को […]

Read More

Hindi Love Poem for Her-Ankho Ke Samne

आँखों के सामने आंखें खोलें तो दीदार तुम्हारा होना चाहिए,अगर करे बंद तो स्वप्न तुम्हारा होना चाहिए,हमें मरने के लिए हर लम्हा मंज़ूर है,बस कफ़न के बदले आँचल तुम्हारा होना चाहिए। तुझे आँखों के सामने रखने की कोशिश करता रहता हूँ,कोई कर न ले साज़िश तुझे चुराने की इस बात से डरता रहता हूँ,तुझे आँखों […]

Read More

Romantic Poem for Her-Agar Mere Bas Mein Hota

अगर मेरे बस में होता (कविता का शीर्षक)आसमान के सारे चाँद-तारे तोड़ लाता,दुनिया की सारी सुंदरता,तुम्हारे बालों में सजा देता,अगर मेरे बस में होता,दुनिया के सभी झरनों को ,मैं “माही” बना देता,आँखों से बहते आँसू,और लबों पर मुस्कान झलकते,दोनों को मैं संगम बना देता,अगर मेरे बस में होता,रातों में भी तुम्हारे, ख्बाबों में सोता,सपनों में […]

Read More

Romantic Poem for Her-Jaane Bhi Do Yaaro

जाने भी दो यारों (कविता का शीर्षक)जाने भी दो यारोंजाने भी दो यारोंकब तक निगाहों में उनके बनते फिरोगे तुम गाफ़िलकल भी तेरे गुनाहों की चर्चा थी महफ़िल महफ़िलइस शोख मुहब्बत से तौबा क्यों न कर लो यारोंजाने भी दो यारोंअटकी पड़ी हैं सांसें बंद घड़ी की सूइयों सीमिलन की आशाएं दुबकी पड़ी छुइमुइ सीनयनों […]

Read More

Hindi Love Poem for Her-Kya Ho Tum

क्या हो तुम (कविता का शीर्षक)तुम्हें पता है कौन हो तुममेरे जिंदगी की अनछुई परछाई हो तुमसमझता मैं भी अजनबी था तुझे,मिला मुझे खुद का पता जब न था,मिली जब पनाह तेरे प्यार की,छोड़ हक़ीक़त सपनों में खो गया,मिला तेरा साथ तो अपनों का हो गया,बिताये हर एक पल ग़मों से दूर रहा मैं,रहता जिस […]

Read More

Hindi Love Poem for Her-Suno

सुनो (कविता का शीर्षक ) सुनो, क्या दो पल मुझसे बात करोगी?सुनो, ज़िन्दगी के सफ़र पर तुम मेरे साथ चलोगी?सुनो, मेरी कहानियों से निकल तुम रास्ते में मेरा हाथ पकड़ोगी?सुनो, तुम क्यों हर वक्त जानकर भी अनजान बनती होकुछ सीख तुम्हें भी तो मिली होगीकि कैसे किया जाता है प्यारएक बार फिर पूछता हूँसुनो क्या […]

Read More

Hindi Love Poem on Crush-Dekha Jab Use

देखा जब उसेदेखा जब उसे …दिल में आग लग गयी ….वक्त थम गयाऔर धडकन रुक गयी …पास जाकर देखातो चांद सी खिल गयी …कुर्ता जॅकेट मेंअप्सरा सी मिल गयी ….क़ातिल निगाहों मेंचमक उठी थी …उसकी हर मुस्कुराहट पेसांसे रुकी थी …उसकी हर अदाओं पेहम फिदा हो गए …जन्नत सी दिख गयीऔर हम वफा हो गए […]

Read More

Hindi Love Poem on Her Intoxicating Eyes-Maikhana Yad Aya

मैखाना याद आया तेरी आँखों की बात हो तो पैमाना याद आया!उल्फ़त जो याद आयी तो मैखाना याद आया! दुनिया वाले करते है इश्क़ और गम की बातें!जब भी देखा शमा को तो परवाना याद आया! ज़माने भर की बातो में कही भूल न जाना हमें!अक्सर ख्वाबों में तेरा मुस्कुराना याद आया! बरसात के मौसम […]

Read More

Hindi Love Poem-Samay Mile To Akar Milna

समय मिले तो आकर मिलनालाइब्रेरी की टेबल पर,कुछ न बोलेंगें हम ज़ुबाँ सेऔर अटकेंगे किताबों पर,पलटेंगे पेजों को यूँ हींलफ्ज़ सुनेंगें हज़ारों पर,लिखे हुए लैटर का क्या करना ?जज़्बात पढ़ेंगे आँखों पर,दांतों तले कभी होंठ दबातेमुस्कान छुपायेंगे होंठों पर,समय मिले तो आकर मिलना,लाइब्रेरी की टेबल पर। (इस कविता के रचनाकार के सम्बन्ध में विवाद होने […]

Read More

Hindi Love Poem For Her-तुम जो संग बने रहो

हम सारे वादों को निभाएंगे, जिंदगी को सफल बनाएंगे, तुम जो संग बने रहो, तुम वादा करके मुकर ना जाना, मेरे दर्द प्रार्थनाओं को खोरी-कोटी ना सुनाना, फिर भी तुमसे किया वादा निभाउंगा, तुम जो संग बने रहो। तुम्हारे कारण हर चाहत से इज़हार है मेरा, तुम्हारे कारण हर जीत से प्यार है मेरा, मेरा […]

Read More

Hindi Love Poem Expressing Love – चाँद चांदनी को चाहता है जिस कदर

चाँद चांदनी को चाहता है जिस कदर, उस कदर चाहूँ मैं तुझे। मेरी एक खुवाईश है कि बस, या तू मेरी बन जा या अपना बना ले तू मुझे। मुझे अच्छी तरह याद है वो दिन, जब हमारा मिलन हुआ , ये भी याद है तुम ने उस दिन क्या पहना हुआ था, हमारी किस […]

Read More

Miss You Love Poem- याद है

  याद है मुझे आज भी उनसे मेरी पहली मुलकात का वो सफर था वो बड़ा ही खास दिन मेरे लिये था वो सफर लम्बा पर सुनकर उनकी मीठी आवाज कर दिया सफर मेरा सुकून भरा मेरे सफर की पूरी थकान उतर गई जब उसने मुस्कुरा के मुझे देखा याद है मुझे मेरी नयी ज़िंदगी […]

Read More

Hindi Love Poem on Separation-आँखें जो खुली

आँखें जो खुली तो उन्हें अपने करीब पाया ना था कभी थे रूह में शामिल आज उनका साया ना था बेपनाह मोहब्बत की जिनसे उम्मीदें लिये बैठे थे उनसे तन्हाइयों की सौगातें मिलेंगी बताया ना था एक हम ही कसीदे हुस्न के हर बार पढ़ते रहे पर उसने तो कभी हाल-ए-दिल सुनाया ना था वो […]

Read More

Hindi Love Poem Expressing Love-मेरी बात

आज फिर हमारी नज़रे मिली वो मुझे देखकर मुस्कुराने लगी उसके होठों की हसी मुझे बहाने लगी मुझे लगा की आज अपने दिल की बात कह दूंगा जो होगा उसे सच मान आगे बढ़ लूँगा मगर उसे किसी और से प्यार था वो तो किसी और पे मरती थी और मैं उसके लिये सिर्फ उसका एक […]

Read More