Hindi Love Poem – तक़दीर का खेल


काली पन्नों में लिखें तकदीरें
बने रिश्तों की गवाही
जनम जनम के कस्मे वादे
बने टूटे दिल की परचाई
बादलों की मेरी ये
महल में छा गयी
तन्हाई हमारी हर वो
याद में जान है समायी
चहरे पे मुस्कान लिए
पीछे आँसू है छिपाई

~स्वेता

Kaali pannom me likhe takdeere
Bane rishton ki gavahi
Janam janam ke kasmevadey
Bane tute dil ki parchayi
Baaalon ki meri ye
Mehal me cha gayi
Tanhayi hamari har vo
Yaad me jaan hi samayi
Chehre pe muskan liye
Peeche aansu hi chipayi

~ Swetha

Hindi Love Poem on Rain – बरसेगा सावन


rain-930263_960_720

जब बरसेगा सावन
भीगेगा मेरा तन मन
प्यार का है ये आलम
होश नहीं दिन रैनन
तेरी आखें बादल
तेरी बातें चंचल
याद आये तू हर पल
बिन तेरे जीना मुशकिल
तू ही मेरी मंज़िल
तू ही मेरी मज़िल

-अनुष्का सूरी

Jab barsega sawan
Bheegega mera tan man
Pyar ka hai ye alam
Hosh nahi din rainan
Teri akhein badal
Teri batein chanchal
Yaad aye tu har pal
Bin tere jeena mushkil
Tu hi meri manzil
Tu hi meri manzil

-Anushka Suri

Hindi Love Poem on Rain-सावन का मौसम


rose-3075998__340.jpg
है आया सावन का मौसम
है आया प्यार का मौसम
रिम झिम बरसेगा पानी
और जवां होगी जवानी
भीगेंगे हम तुम साथ में
आयेगा बड़ा मज़ा बरसात में

– अनुष्का सूरी