Hindi Love Poem to Woo Him – कर दे स्माइल


couple-1363969_960_720

आँखों में तेरी निंदिया
माथे पर शिकन की बिंदिया
हाथ में लेके तू मोबाइल
करता रहता फ़ोन डायल
अब तो ज़रा सा कर दे स्माइल
तू है मेरा हीरो इन स्टाइल
देखूँ तुझे तो दिल धड़के
ना देखूँ तो नैना तरसे
अब बन जा कुछ  डूड 
क्यों है मुझसे  रूड रूड 

– अनुष्का सूरी

Akho mein teri nindiya
Mathe par shikan ki bindiya
Hath mein leke tu mobile
Karta rahta phone hi dial
Ab to zara sa kar de smile
Tu hai mera hero in style
Dekhu tujhe to dil dhadke
Na dekhu to naina tarse
Ab banja tu kuch dude
Kyo hai mujhse rude rude

– Anushka Suri

Hindi Poem For Girlfriend- दिल की बाते


11

कह दूँ आज सारी दिल की बाते
तू अच्छी लगती है
तेरी बाते अच्छी लगती है
तेरा रोना अच्छा लगता है
तेरा हँसना अच्छा लगता है
तेरा चलना अच्छा लगता है
तेरी गाली अच्छी लगती है
तेरा देखना अच्छा लगता है
तेरी नराजगी भी अच्छी लगती है
तेरी सूरत अच्छी लगती है
तेरी मुस्कान अच्छी लगती है
तेरी आँखे अच्छी लगती है
तेरा मारना अच्छा लगता है
तेरा घूरना अच्छा लगता है
तेरी दी हुई चीजें अच्छी लगती है
10 की फटी नोट अच्छी लगती है
तेरे बालो की पीन अच्छा लगता है
तेरा चश्मा अच्छा लगता है
मिर्ची खाकर रोना अच्छा लगता है
सारी चॉकलेट्स अच्छा लगता है
लाइब्रिरी की यादें अच्छी लगती है
तेरी जूती अच्छी लगती है
यहाँ तक तेरी साईकल भी अच्छी लगती है
तेरी गालिया अच्छी लगती है
तेरा सूट भी अच्छा लगता है
तेरे नखरे अच्छे लगते है
तेरी याद मे रोना अच्छा लगता है
तेरा करीब आना अच्छा लगता है
दुरिया को छोड़ बाकी सब अच्छा लगता है
तेरे पास बैठना अच्छा लगता है
तेरे साथ रोना अच्छा लगता है
तेरे साथ हँसना अच्छा लगता है
तेरे साथ चलना अच्छा लगता है
तुज़े मारना अच्छा लगता है
तेरी तड़प अच्छी लगती है
तेरी रन्गत अच्छी लगती है
तुझे डायरी मे लिखना अच्छा लगता है
तेरी तस्वीरे अच्छी लगती है
तेरी गलती अच्छी लगती है
तू सही है अच्छी लगती है
तेरा चिल्लाना अच्छा लगता है
तेरा चुप रहना अच्छा लगता है
तुज़े रुलाना अच्छा लगता है
तुज़े हँसाना अच्छा लगता है
पर इन सब से एक अलग एक और
तेरा गुस्सा
अब तो तेरा गुस्सा भी अच्छा लगता है
वजह ना पूछना यार
बस तुम और सिर्फ तुम अच्छे लगते हो
पागल था या पग्ला गया हूँ मालूम नहीं
गलत था या गलत हू मालूम नहीं
अब और क्या कहूं मैँ
बस तू अच्छी लगती है
तू अच्छी लगती है
और तू ही अच्छी लगती है

– गीतेश बॉस

Short Hindi Love Poem for Her – छोटी छोटी बातों पे


girl-1352914_960_720
छोटी छोटी बातों पे हंसी उसको आती नहीं,
धीमे धीमे प्यार से वो मुस्कुराती नहीं,
क्या करूँ मैं? उसको हसाऊँ या खुद रो पड़ूँ मैं?
उसे मुस्कुराहट का मतलब किन लफ़्ज़ों में समझाऊँ मैं..
-कविता परमार
Choti choti baton pe hansi usko aati nahin,
Dheeme dheeme pyar se wo muskurati nahin,
Kya karoon main? Usko hasaoon ya khud padoon main?
Use muskurahat ka matlab kin lafzon mein samjhaoon main..
-Kavitha Parmar
English Translation
She does not laugh at ordinary events
She does not cutely and slowly smile with love
What should I do? Should I make her smile or cry myself?
In what words do I explain the meaning of a smile to her?
– A poem by Kavitha Parmar