Posted in Basant Panchmi Love Poems

Hindi Poem on Vasant Panchmi-आया बसंत


DSC_0023

देखो देखो आया बसंत
हाँ हाँ आया बसंत
चारों तरफ खिले
फूल अनंत
आया बसंत
सर्दी का अब तो
होना है अंत
हाँ हाँ आया बसंत
धरती है सजी
पीली पीली चादर में
आया बसंत
पक्षी चहचहाने लगे
गीत गुनगुनाने लगे
आया बसंत
हाँ आया बसंत
प्रेम में हो गए
हम तो पडंत
आया बसंत
हाँ आया बसंत
नाचो घुमो
मज़े में झूमो
आया बसंत

-अनुष्का सूरी