Miss You Hindi Love Poem – ठीक हूँ मैं


person-2244036_960_720

देखा जवाब मिला मुझे कि,
परेशान नहीं ठीक हूँ मैं।

तुम सोचना नहीं मुझे कभी,
तुम ढूंढना नहीं मुझे कभी,
परेशान नहीं ठीक हूँ मैं।

जब तस्वीरे देख जाओ कभी,
जब आँखों में पानी लाओ कभी,
रुमाल निकाल पोछ सकते हो,
या इतना पानी तो सोख सकते हो
पर मुझे कुछ नहीं कहना क्योंकि,
परेशान नही ठीक हूँ मैं।

जब लिखा हुआ कुछ मिल जाए,
दिल में फिर से अरमां खिल जाए,
कुछ नहीं दबा लेना सब कुछ,
या किताब बना देना सब कुछ,
पर मुझे कभी मत पढ़ाना क्योंकि,
परेशान नहीं ठीक हूँ मैं।

याद में तुम रात गुज़ार दो अगर,
ये कोई नई बात नहीं होगी मगर,
चाँद को देखते मेरा अश्क नज़र आये,
मुँह फेर लेना अपना शायद इश्क़ मर जाये,
पर मुझे परेशान मत करना क्योंकि,
परेशान नहीं ठीक हूँ मैं।

।।गीतेश नागेंद्र।।

Hindi Poem on Angry Love-रूठे से वो


inside_out_sadness___disney_pixar-wallpaper-1366x768

वो रूठे हैं इस कदर मनायें कैसे।
जज़्बात अपने दिल के दिखाएँ कैसे।
नर्म एहसासों की सिहरन कह रही है पास आ जाओ।
सिमट जाओ मुझमें और दिल में समां जाओ।
देखो लौट आओ ना रूठो हमसे।
बस रह गया है तुम्हारा इंतज़ार कब से।
इतनी भी क्या तकरार हमसे ।
तेरे इंतज़ार में हो गया है दिल बेकरार कब से।
लड़ना मुझसे झगड़ना मुझसे पर कभी न दूर रहना मुझसे।
एक बार फिर ढलती शाम में बढ़ रहा है खुमार  कब से।
अब तुम्ही मीत हो मेरे दिल की सदायें समझो।
मेरे दिल की ख़ामोशी मेरी वफायें समझो
अब क्या कहूँ अपने दिल की सदायें उनसे।
वो रूठे हैं इस कदर मनायें कैसे।
जज़्बात अपने दिल के दिखाये कैसे।
-गौरव

How to read:

Wo ruthe hain is kadar manayein kaise

Jazbaat apne dil ke dikhayein kaise

Narm ehsaso ki sirhan keh rahi hai pas ajao

Simat jao mujhmein aur dil mein sama jao

Dekho laut aao na rutho hamse

Bas reh gaya hai tumhara Intezar kab se 

Itni bhi kya takraar ham se 

Tere Intezar mein ho gaya hai dil bekarar kab se 

Ladna mujhse jhagadna mujhse par kabhi na dur rehna mujhse 

Ek bar phir dhalti sham mein badh raha hai khumar kab se

Ab tum hi meet ho mere dil ki sadayein samjho

Mere dil ki khamoshi meri wafayein samjho

Ab kya kahu apne dil ki sadayein unse

Wo ruthe hain is kadar manayein kaise

Jazbaat apne dil ke dikhayein kaise

-Gaurav

English Translation:

The extent to which my love is angry with me, how do I wow my love

How do I show emotions of my heart to my love?

The sweet memories of our love ask you to come nearby

Embrace me tight and get absorbed in me

Please come back, do not stay angry with me

I have been waiting for you for so long

Is it such a big feud between us?

My heart is highly impatient while waiting for you

You can fight with me, argue with me, but do not stay away from me

Once again with the evening approaching night, my heart is getting mad for you

You are my only friend, please understand my emotions for you

The extent to which my love is angry with me, how do I wow my love

How do I show emotions of my heart to my love?

 

Hindi Love Poem for Him, Her-दिल की चाहत


दिल की चाहत
कल भी तुम थे
आज भी तुम हो

मेरी ज़रूरत
कल भी तुम थे
आज भी तुम हो

तुमने तो मुझे कबका
भुला दिया
मेरी आदत
कल भी तुम थे
आज भी तुम हो

तुमने न जाना कितना
तुमको प्यार किया
मेरी इबादत
कल भी तुम थे
आज भी तुम हो

बेखबर बनते हो
खबर हो के भी
मेरी किस्मत
कल भी तुम थे
आज भी तुम हो

-अनुष्का सूरी

 

How to read:

Dil ki chahat 

Kal bhi tum the

Aj bhi tum ho

 

Meri zarurat

Kal bhi tum the

Aj bhi tum ho

 

Tumne to mujhe kabka 

Bhula diya

Meri adat

Kal bhi tum the

Aj bhi tum ho

 

Tumne na jana

Kitna tumko pyar kiya

Meri ibadat

Kal bhi tum the

Aj bhi tum ho

 

Bekhabar bante ho

Khabar ho ke bhi

Meri kismat

Kal bhi tum the

Aj bhi tum ho

-Anushka Suri

 

English Translation:

You were my heart’s desire yesterday,

and today as well

 

You were my need yesterday,

and today as well

It has been a long time since you have forgotten me.

You were my habit yesterday,

and today as well.

 

You never had any clue

How much I loved you

You were my prayer yesterday,

and today as well.

 

You act unaware even after knowing it all.

You were my destiny yesterday,

and today as well.

 

 

Sad Hindi Poem- प्यार नहीं था था वो फ़साना


This slideshow requires JavaScript.

प्यार नहीं था
था वो फ़साना

मौसम बदले
तुम भी बदले
तुमको नया
प्यार निभाना
तब मैंने जाना
प्यार नहीं था
था वो फ़साना

जब मैं थी तन्हा
तुझको पूकारा
तूने पलट के ना
देखा दोबरा
तब मैंने जाना
हाँ मैंने जाना
प्यार नहीं था
था वो फ़साना

जब दिल ये टूटे
तब मैंने जाना
प्यार नहीं था
था वो फ़साना
था वो फ़साना

– अनुष्का सूरी

English Translation:

It wasn’t love, but an affair
When my heart was broken,
then I realized..
It wasn’t love,
but an affair
but an affair..
When I was lonely and I needed you,
I called you..
But you did not bother to
see me or meet me..
Then I realized,
yes I realized
It wasn’t love,
but an affair
Seasons changed
You also changed
You did not learn
how to respect love
Then I realized,
yes I realized
It wasn’t love,
but an affair

-Anushka Suri

How to read:

pyar nahi tha
tha wo fasana..

mausam badle
tum bhi badle
tumko naaya
pyaar nibhana
tab maine jana
pyar nahi tha
tha wo fasana

jab main thi tanha
tujhko pukara
tune palat ke na
dekha dobara
tab maine jana
haan manine jana
pyar nai tha
wo tha fasana

jab dil ye tuta
tab maine jana
pyar nahi tha
tha wo fasana
tha wo fasana

-Anushka Suri

Miss You Love Poem – आंसू भी तेरे हैं इश्क़ भी तेरा


alone-666078_960_720

आंसू भी तेरे हैं इश्क़ भी तेरा
अब तो हर वक़्त आंसू ही बहते हैं
शिकवा आंसुओ से भी नहीँ
न तुझसे, क्योंकि मुहब्बत तुझसे है
और आंसू भी तेरे हैं इश्क़ भी तेरा
गिला करूँ तो किससे?

गौरव

Aansu bhi tere hain ishq bhi tera
Ab to har bakat aanshu hi bhte hai
Shikwa aanso se bhi nai
Na Tujhse kyuki mhobbat tujhse hai
Aansu bhi tere hai ishq bhi tera
Gilla karu to kisse

-Gaurav

Hindi Miss You Poem for Girlfriend – इंतज़ार


ढलती

ढलती हुई शाम में आज भी उनका इंतज़ार है
थक के ये आँखें बोझिल होने लगी हैं फिर भी उनका इंतज़ार है
सोच के ये दिल मुस्कुरा देता है की नहीँ हैं
बेवफा वो। कम से कम जीने का सहारा ख्वाबों में तो दिया करती हैं
जब भी ख्वाबों में मुलाकात होती हैं
वो हमेशा मिलूंगी वादा करके सुबह कहीं चली जाती हैं
और सुबह फिर से उनका इंतेजार किया करता हूँ
समय तो रेत की तरह हाथों से फिसल रहा है
कई बरसाते आई और चली गयीं पर कोई बारिस की बूँद मुझे भिगो न पायी
ठण्ड की सिहरन तो बहुत लगी पर उस सिहरन में तेरी गर्मी का एहसास न था
हवा का झोंका जब भी मुझसे टकराया तेरी यादो की खुश्बू को लाया
सावन,सर्द हवाएं,सुबह की किरन,ओस की बूँद,चाँदनी सब से तेरी बातें किया करता हूँ
मेरी साँसें आज साथ छोड़ती सी लग रहीँ हैं
पर बन्द होती आँखों को आज भी तेरा इंतज़ार है
की सपना देख लूँ आज की तू हकीकत में आ गयी है
आज फिर से गले लगाया है
और सो गया हूँ मैं तुझे दिल में बसा के कभी ख़त्म न होने वाले सपने की तरह
की अब ये इंतज़ार साँसों के साथ खत्म होता सा लग रहा है

~ गौरव

Miss Him Love Poetry-दिल की आवाज़


खो दिया उसे एक दिन
तो ये आँखे ही क्या,
दिल बहुत रोएगा….
इतना चाहा है दिल ने उसे,
किसी और का ना हो पाएगा….
क्या पता था इतना प्यार हो जाएगा,
मेरा कल तुमसे जुड़ जाएगा….
इतना करीब से गुज़रे हो दिल के,
कि निशान अभी भी बाकी है….
पहले तो खींच लिया मुझे,
ग़मों की गहराई से….
और अब कह दिया उसने,
खुशी नहीं है उसके पास….
आदत भी तो ऐसी हो गई है,
कि छोड़ नहीं पाऊँगी….
उसे क्या इलज़ाम देना,
करीब तो मैं आई थी….
वो तो कब से दूर था,
दिल पर तो मैंने लिया….
उसने तो बस मज़ाक समझा,
तो तकलीफ उसे क्यों हो….
पर फिर भी एक उम्मीद है उससे,
जब आएगा वो कल,
जिंदगी का सबसे मुश्किल भरा पल,
ना पास तेरे आ सकूँगी,
ना दूर तुझसे जा सकूँगी,
तो बस एक बार दुनिया को भूल कर,
एक आवाज़ दिल से देना,
और रोक लेना मुझे,
कदम क्या साँसे थम जाएँगी,
बस एक दिल की आवाज़…….
मेरे लिए………….

-लता कुशवाह