Category Archives: Hindi Love Poem for Marriage

Hindi Love Poem for Marriage – Marriage Bureau


मैरिज ब्यूरो के फेर में, ज़िंदगी के दौर में न जाने कहाँ आ गए। लगे रहे दूसरों की शादी कराने में, खुद की शादी में देर हो गए सोचा कैसा बनाऊँ में अपनी शादी का इश्तेहार दूसरों की शादी का … Continue reading

Posted in Hindi Love Poem for Marriage, Hindi love poems, Hindi Love Poems by Readers | Tagged , , | Leave a comment