Miss her love poem -Aisa Laga

ऐसा लगाक्यों ऐसा लगा मैंने उसे देखाक्यों ऐसा लगा मैंने उसे सोचारातें ये दिनसिर्फ उसकी यादों मेंखोए रहते हैंपर इक खामोशी की चादर मेंछुपकर सोए रहते हैंन दिखाते हैं चेहरा अपनाआंसू भी इनकीआँखों में ख्वाब पिरोए रहते हैंआज उसकी यादें कुछ कहना चाहती हैंमरे इन सपनों को अपना बनाना चाहती हैंहो सकता है देख रहा […]

Read More

Hindi Love Poem for Her-Ankho Ke Samne

आँखों के सामने आंखें खोलें तो दीदार तुम्हारा होना चाहिए,अगर करे बंद तो स्वप्न तुम्हारा होना चाहिए,हमें मरने के लिए हर लम्हा मंज़ूर है,बस कफ़न के बदले आँचल तुम्हारा होना चाहिए। तुझे आँखों के सामने रखने की कोशिश करता रहता हूँ,कोई कर न ले साज़िश तुझे चुराने की इस बात से डरता रहता हूँ,तुझे आँखों […]

Read More

Hindi Poem Expressing Love-Kuch Kaho To Sahi

कुछ कहो तो सही एक अजनबी तुम एक अजनबी हमअनजानी राहों में मिल जाएंगेकुछ कहो तो सहीगर बात होगी, तो तनहा न ये रात होगीये खामोश लब खुद-ब-खुद मुस्कुरायेंगेकुछ कहो तो सहीगमों को उतार इन एहसासों में डूबकर तो देखोज़ख्म खुद-ब-खुद भर जाएंगेकुछ कहो तो सहीहाथों में हाथ होगा, एक-दूजे का साथ होगाये दृग-मेघ खुद-ब-खुद […]

Read More

Hindi Love Poem on Separation-आँखें जो खुली

आँखें जो खुली तो उन्हें अपने करीब पाया ना था कभी थे रूह में शामिल आज उनका साया ना था बेपनाह मोहब्बत की जिनसे उम्मीदें लिये बैठे थे उनसे तन्हाइयों की सौगातें मिलेंगी बताया ना था एक हम ही कसीदे हुस्न के हर बार पढ़ते रहे पर उसने तो कभी हाल-ए-दिल सुनाया ना था वो […]

Read More

Hindi Love Poem For Her – तुम जैसी हो अच्छी हो

है वो थोड़ी अजनबी सी, हर रात ख्वाबो में आती है।। जी भर देखना चाहता हूँ उसे, उफ़ ये रात गुज़र जाती है…!!!! कुछ कहना चाहता हूँ उससेे, बात होठो तक रुक जाती है।। वो आँखों में देख कर मेरी, दिल की बात समझ जाती है…!!!! समझ कर दिल की बातों को, लब्जो का इंतज़ार […]

Read More

Hindi Love Shayari for Girlfriend- तुम्हारी है हर बात निराली

तुम हो एक अनमोल अंगूठी या फिर उसका कोई नगीना तुम सी नहीं है कोई अनूठी कातिल काफिर कोई हंसीना आंखें तुम्हारी कारी कजरारी चाल तुम्हारी बड़ी मतवारी एक बार जो तुम कुछ बोलो जैसे शब्द में मिश्री घोलो हो तुम बड़े ही नखरे वाली तुम्हारी है हर बात निराली -अनुष्का सूरी (शायरा) How to […]

Read More

Hindi Poem on Angry Love-रूठे से वो

वो रूठे हैं इस कदर मनायें कैसे। जज़्बात अपने दिल के दिखाएँ कैसे। नर्म एहसासों की सिहरन कह रही है पास आ जाओ। सिमट जाओ मुझमें और दिल में समां जाओ। देखो लौट आओ ना रूठो हमसे। बस रह गया है तुम्हारा इंतज़ार कब से। इतनी भी क्या तकरार हमसे । तेरे इंतज़ार में हो […]

Read More

Hindi Poem For Angry Girlfriend- छल मत कर

छल मत कर छल मत कर छल मत कर सब जान कर तू बनी,बनाई बात तू बिगाड़ मत तू रोता है मन मेरा ये जान कर कि अच्छी-खासी रिश्ते को बिगाड़ा है अभी था मैं अकेला जब तू थी नही तूने ही धड़काया दिल जब तू थी मिली है कोई बात तो कह दे ना […]

Read More