Hindi Poem Expressing Love-Kuch Kaho To Sahi

कुछ कहो तो सही

एक अजनबी तुम एक अजनबी हम
अनजानी राहों में मिल जाएंगे
कुछ कहो तो सही
गर बात होगी, तो तनहा न ये रात होगी
ये खामोश लब खुद-ब-खुद मुस्कुरायेंगे
कुछ कहो तो सही
गमों को उतार इन एहसासों में डूबकर तो देखो
ज़ख्म खुद-ब-खुद भर जाएंगे
कुछ कहो तो सही
हाथों में हाथ होगा, एक-दूजे का साथ होगा
ये दृग-मेघ खुद-ब-खुद बरस जाएंगे
कुछ कहो तो सही
वक्त के उन क्रूर पलों को बिसार दो
कुछ इबादत तुम्हारी कुछ दुआ हमारी रंग लाएंगे
कुछ कहो तो सही
ये असहज मौन न साधो
क्या भरोसा इन लम्हों का कब बिछड़ जाएंगे
कुछ कहो तो सही ।

-ज्योति आशुकृषणा

Hindi Love Poem for Her-Hawa Ke Jhonke

हवा के झोंके
मैंने सांस ली अपनी छत से…एक झोंके से वो उड़ चली
तू थी कहीं मीलों दूर अपनी छत पे…तेरी भी सांसें उड़ चली
मैंने सोचा कि मिलना तो ना था हमारे मुक़ददर में लिखा
मगर….
कहीं ना कहीं वह हवाएं जाती होंगी
जहां हमारे सांसें टकराती होंगी…
जो कुछ हम कह न सके कभी
वह मिलके अपनी दास्तान सुनाती होंगी ।
आयुष पांडे

Hindi Love Poem-Ab Dil Ye Meri Sunta Nahi

heart-3056182_960_720

अब दिल ये मेरी सुनता नहीं

बहुत समझाया है मैने इस दिल को
पर अब ये मेरी सुनता नहीं
हर धड़कन में अब तुम हो बसे
कि ये सपना कोई बुनता नहीं
तुम अब मेरे नही हो सकते ये दिल भी जानता है
पर इस दिल का क्या कसूर ये तो तुझे ही खुदा मानता है
तुम कहते हो जीवन में आगे बढ़ो सब ठीक होगा
लेकिन तुम्हें भी पता है कि तुम्हारी तरह कोई मुझे समझ सकता नहीं
बहुत समझाया है मैने इस दिल को
पर अब ये मेरी सुनता नहीं
भले ही ऊपरवाले ने हमारी जोड़ी ना बनाई हो
लेकिन इस जीवन में कुछ पल ही सही तेरे होने का एहसास हुआ , इससे बड़ी क्या खुदाई हो
बस दुआ है यही रब से…….
जब जिंदगी दे तो तेरे साथ नही तो जिंदगी ना दें
बहुत समझाया है मैने इस दिल को
पर अब ये मेरी सुनता नही
ऐ मेरे हमदम मुझपर एक और एहसान कर
आखिरी ख्वाहिश है दिल की यही समझकर
मेरा दिल तो रौशन है बस तेरे ही होने से
इसलिए इस दिल में तुम कभी अंधेरा करना नही
बहुत समझाया है मैने इस दिल को
पर अब ये मेरी सुनता नहीं

-प्रशांत आयुष वर्मा 

Ab Dil Ye Meri Sunta Nahi

Bahut samjhaya hai maine is dil ko 
Par ab ye meri sunta nahi
Har dhadakan mein ab tum ho base
Ki ye sapna koi bunta nahin
Tum ab mere nahin ho sakate ye dil bhee jaanata hai
Par is dil ka kya kasoor ye to tujhe hee khuda maanata hai
Tum kehte ho jeevan mein aage badho sab theek hoga
Lekin tumhein bhee pata hai ki tumhaaree tarah koee mujhe samajh sakata nahi
Bahut samjhaya hai maine is dil ko 
Par ab ye meri sunta nahi
Bhale hee uparavaale ne hamaaree jodee na banaee ho
Lekin ye jeevan mein kuchh pal hee sahee tumhaara hone ka ehasaas hua,

Isse badi kya khudai ho 
Bas dua hai yahi rab se …….
Jab jindagi de to tere saath nahin to jindagi na den
bahut samjhaya hai maine is dil ko
Par ab ye meri sunta nahi
Ae mere hamadam mujhapar ek aur ahasaan kar
Aakhri khvaahish hai dil kee yahee samajhakar
Mera dil to raushan hai bas tumhaara hee hone se
Isiliye is dil mein tum kabhee andhera karana nahin
Bahut samjhaya hai maine is dil ko
Par ab ye meri sunta nahi

-Prashant Aayush Verma

Order Customized 3D Animated Image for Your Love

love-image-anushka.gif

Now you can order a customized animated 3D image for your boyfriend, girlfriend, husband, wife, friend or valentine!

Each customized animation costs only INR 20 and will be delivered via email in  GIF file format.

Click here to order now!

Hindi Love Poem For Her – आँखे तेरी भी नम हो

आँखे तेरी भी नम हो पर मुझसे कम हो
दिल तेरा भी टूटे पर गम जो मिले मुझसे कम हो
तू भूल जाये किसी को पर मैं ना भुला पाऊंगा
जिस शिद्दत से चाहा था तुझको उसी शिद्दत से चाहुँगा
ना पास आऊँगा ना दूर जाऊँगा बस छुप छुप कर तुझे चाहुँगा
मेरी तम्मनाओं के सागर में तू हर रोज़ डुबकी लगाती है
तू तो भीग कर निकलती है मेरी यादों से
पर मैं अकेला तन्हा रह जाता हूँ
जाने क्यूँ ऐसा होता है जो सच्चा हो वो अधूरा रह जाता है
चल हम भी वादा करते है तुझसे
कि हर साँस में तुझे बसा लेंगे
और जब ये सांसो की डोर छूटेगी हम तेरा ही नाम लेंगे
-संदीप कुमार साव

Aankhei teri bhi num ho par mujhse kam ho,
Dil tere bhi tute par gum jo mile mujhse kam ho.
Tu bhul jaye chahe kisi ko par main na bhula paunga.
Jis shiddat se chaha tha tujhko usi shiddat se chahunga,
Na pas aaunga na dur jaunga bas chhup chhup kar tujhe chahunga.
Meri tammanao ke sagar me tu har roz dubki lagati hai,
Tu to bhig kar nikalti hai meri yadon se,
Par mai akela tanha rah jata hu.
jane kyon aisa hota hai jo pyar saccha ho wo adhura rah jata hai.
Chal Hum bhi wada karte hai tujhse,
Ki har sans me tujhe basa lenge,
Aur jab ye sanso ki dor chutegi hum tera hi nam lenge.
-Sandip Kumar Saw

Hindi Love Poem – जीना सीख लिया

हार कर सब कुछ जीने का जज़्बा सीख लिया,
हारना तो मौत से है,मैंने जिंदगी जीना सीख लिया।

कई बाज़ी हारा हूँ, अभी कई बाज़ी जीतूंगा भी,
सहना अब जिंदगी का हर वार सीख लिया।

दुःखों का क्या है आनी-जानी चीज है,
सफर में धूप है तो छाँव ढूंढना सीख लिया।

खो कर रास्ते बार-बार, नई मंज़िल पर निकल लेता हूँ,
पल-दो-पल की ख़ुशी को पूरी जिंदगी बनाना सीख लिया।

खुशियों से ज्यादा तो गम मिल जाते है अक्सर,
वक्त बुरा है या हम ये समझाना सीख लिया।

कवि “राज़” यूँ तो भरी है ज़िंदगी जख्मों से,
भूल कर सब कुछ वक्त को मरहम बनाना सीख लिया।

राज़ सोरखी “दीवाना कवि”

Haar kar sab kuch jine ka jazba sikh liya
Harna to maut se haimene zindgi jeena sikh liya

Kai baji hara hoon abhi kai baji jituga bhi
Sehna ab zindgi ka har var sikh liya

Dukho ka kya hai anjani chiz hai
Safar me dhoop hai to chhav dhundna sikh liya

Kho kar raste bar bar nayi manjil par nikal leta hoon
Pal do pal ki khushi ko puri zindgi bnana sikh liya hai

Khushiyon se jyada to gum mil jatein hai aksr
Vakat bura hai ya hum ye smjhna sikh liya hai

Kavi “raj” yoon to bhri hai zindgi jakhmo se
Bhul kar sab kuch waqt ko marhum bnana sikh liya

~Raj sorkhi”diwana kavi”

Hindi Love Poem – दिल दिया दर्द लिया

girl-429380_960_720

दिल दिया दर्द लिया
हाँ मैने इश्क़ किया
दिल दिया दर्द लिया
हाँ मैने इश्क़ किया

तेरा दीदार किया
हाँ मैंने इश्क़ किया
तुझ पे ऐतबार किया
हाँ मैंने इश्क़ किया
दिल दिया दर्द लिया
हाँ मैंने इश्क़ किया
दिल दिया दर्द लिया
हाँ मैंने इश्क़ किया

तेरे बिन तड़पे ये जिया
हाँ मैंने इश्क़ किया
अब तो मिल जा तू पिया
हाँ मैंने इश्क़ किया
दिल दिया दर्द लिया
हाँ मैने इश्क़ किया
दिल दिया दर्द लिया
हाँ मैने इश्क़ किया

-अनुष्का सूरी

How to read:

Dil diya dard liya
Haan maine ishq kiya
Dil diya dard liya
Haan maine ishq kiya

Tera deedar kiya
Haan maine ishq kiya
Tujh pe aitbaar kiya
Haan maine ishq kiya
Dil diya dard liya
Haan maine ishq kiya
Dil diya dard liya
Haan maine ishq kiya

Tere bin tadpe ye jiya
Haan maine ishq kiya
Ab to mil ja tu piya
Haan maine ishq kiya
Dil diya dard liya
Haan maine ishq kiya
Dil diya dard liya
Haan maine ishq kiya

-Anushka Suri

English translation:
I exchanged my heart for pain
Yes I fell in love
I exchanged my heart for pain
Yes I fell in love
I fondly thought about you
Yes I fell in love
I trusted you
Yes I fell in love
I exchanged my heart for pain
Yes I fell in love
I exchanged my heart for pain
Yes I fell in love
My heart longs for you
Yes I fell in love
Please come and meet me my beloved
Yes I fell in love
I exchanged my heart for pain
Yes I fell in love
I exchanged my heart for pain
Yes I fell in love

Hindi Love Poem for Her – ज़ुल्फो के बादल तले

1wed

ज़ुल्फो के बादल तले
ठंडी ठंडी हवा चले
आँखों क काजल तले
हाय मेरा दिल मचले
तू जब जब बातें करें
सुनने में अच्छा लगे
तू जब धीमे से हस दे
दिल मेरा उड़ने लगे
कह दे अब कह भी दे
तू प्यार मुझसे करें
शर्माना जाने भी दे
तेरी आँखे बातें करें
अब तू ये भी सुन ले
मेरा दिल तुझपे मरे
हाँ हाँ बस तुझपे मरे..

– अनुष्का सूरी 

 

Hindi Love Poem- इश्क़ से अंजान

qqsqwqw

माही मेरे इश्क़ को ना समझे मेरा यार,
गहरा बहुत है दिल मे मेरे आज तेरा प्यार,
तुझमे ही मैं खोई रहती,तुझको ही मैं सोचती,
सारी दुनिया बोलती जोगन बनी मैं यार,
मेरे दिल की सबने जानी पर वो वाबरा अंजान है,
वही कुछ नहीं जनता जिसे करूँ मैं प्यार,
जिसको सोचके हँसती हूँ,जिसमें ही मैं खोती हूँ,
जिसमे जीवन के रंग सजे,बस बना रहा वही मेरे इश्क़ से अंजान,
सच कहा है दुनिया ने जोगन तेरे इश्क़ को ना समझे तेरा यार,
करती है तू कितना उसको अपने दिल से प्यार,
बस बना रहा वही वाबरा इश्क़ से अंजान,तेरे इश्क़ से अंजान।

– गौरव

Hindi Poem For Girlfriend- दिल की बाते

11

कह दूँ आज सारी दिल की बाते
तू अच्छी लगती है
तेरी बाते अच्छी लगती है
तेरा रोना अच्छा लगता है
तेरा हँसना अच्छा लगता है
तेरा चलना अच्छा लगता है
तेरी गाली अच्छी लगती है
तेरा देखना अच्छा लगता है
तेरी नराजगी भी अच्छी लगती है
तेरी सूरत अच्छी लगती है
तेरी मुस्कान अच्छी लगती है
तेरी आँखे अच्छी लगती है
तेरा मारना अच्छा लगता है
तेरा घूरना अच्छा लगता है
तेरी दी हुई चीजें अच्छी लगती है
10 की फटी नोट अच्छी लगती है
तेरे बालो की पीन अच्छा लगता है
तेरा चश्मा अच्छा लगता है
मिर्ची खाकर रोना अच्छा लगता है
सारी चॉकलेट्स अच्छा लगता है
लाइब्रिरी की यादें अच्छी लगती है
तेरी जूती अच्छी लगती है
यहाँ तक तेरी साईकल भी अच्छी लगती है
तेरी गालिया अच्छी लगती है
तेरा सूट भी अच्छा लगता है
तेरे नखरे अच्छे लगते है
तेरी याद मे रोना अच्छा लगता है
तेरा करीब आना अच्छा लगता है
दुरिया को छोड़ बाकी सब अच्छा लगता है
तेरे पास बैठना अच्छा लगता है
तेरे साथ रोना अच्छा लगता है
तेरे साथ हँसना अच्छा लगता है
तेरे साथ चलना अच्छा लगता है
तुज़े मारना अच्छा लगता है
तेरी तड़प अच्छी लगती है
तेरी रन्गत अच्छी लगती है
तुझे डायरी मे लिखना अच्छा लगता है
तेरी तस्वीरे अच्छी लगती है
तेरी गलती अच्छी लगती है
तू सही है अच्छी लगती है
तेरा चिल्लाना अच्छा लगता है
तेरा चुप रहना अच्छा लगता है
तुज़े रुलाना अच्छा लगता है
तुज़े हँसाना अच्छा लगता है
पर इन सब से एक अलग एक और
तेरा गुस्सा
अब तो तेरा गुस्सा भी अच्छा लगता है
वजह ना पूछना यार
बस तुम और सिर्फ तुम अच्छे लगते हो
पागल था या पग्ला गया हूँ मालूम नहीं
गलत था या गलत हू मालूम नहीं
अब और क्या कहूं मैँ
बस तू अच्छी लगती है
तू अच्छी लगती है
और तू ही अच्छी लगती है

– गीतेश बॉस