Hindi Love Poem for Her -रूठूँ  जो तुमसे

रूठूँ  जो तुमसे मुझे मना लेना दूर अगर हो जाऊँ तो मुझे बुला लेना दिल दिया है तुमको नाज़ुक मेरा हाये देखो संभालना ज़रा कहीं गिर न ये जाये फूलो से खुश्बू लेना तुम पंछियो के पंख मन को लगा लेना तुमसे बहुत मोहब्बत करते हैं हम कहीं कभी हमको न भुला देना रोज़ मिलना […]

Read More

Hindi Poem on Love – कैसे बताऊँ तुम मेरे दिल के कितने करीब हो

कैसे बताऊँ तुम मेरे दिल के कितने करीब हो जो धरती पर जन्नत दिखा दे वही मेरे नसीब हो तुम जो चलते हो लगता है हवा चली हो हल्की हल्की तुम जो कुछ कह दो तो लगता है बजा हो गीत सुरीला तुम्हारा रंग है गोरा जैसे हो मद्धम धूप तुम्हारे बाल हैं काले जैसे […]

Read More

Hindi Love Poem-तेरी आंखो मे जो अजब सा नशा है

तेरी आंखो मे जो अजब सा नशा है क्या बताऊँ दिल किस कदर तुझ पर फिदा है उफ तेरी ज़ुल्फ़ों का वो घना अंधेरा चुराता है दिल जैसे हो कोई लुटेरा तेरे गाल पर वो जो काला काला तिल है हाये उसे देख मचलता ये दिल है वो तेरा बार बार मुझसे नज़रें चुराना और […]

Read More

Hindi Poem- आँखों में झांको मेरी

आँखों में झांको मेरी खो जाने दो खुद को बाँहों में आओ मेरी सो जाने दो खुद को दिल में आओ मेरे बसा लो यहाँ खुद को तुम मेरी हो मेरी रहोगी केह दो आज तुम सभी को तुम चाहो या भुला दो मुझको आशिक़ ये तुम्हारा चाहेगा बस तुम्हीं को

Read More

पास आए हो – हिन्दी प्रेम कविता

पास आए हो तो अब दूर मत जाना मुझसे किये वादे तुम अब निभाना वो मेरा ठुमक आता देख के राह भूल जाना और तुम्हारा मुझे देख वो धीरे से मुस्काना वो एक दूजे कि याद में खुद को तड़पाना वो मिलना रोज़ चाहे कुछ भी कहे ज़माना जब भी मिलो तब एक ही बात […]

Read More

Hindi Love Poetry-फूलों से क्या मैं कह दूँ

फूलों से क्या मैं कह दूँ कि अब खिलना छोड़ दो क्यों मुझसे तुम कहती हो मुझसे मिलना छोड़ दो तुम्हारी मीठी बातें दिल को देती हैं मेरे सुकून तुमको मैं क्या बताऊँ इश्क़ का मुझ पर है कैसा जुनून लम्बी हैं रातें और छोटे नहीं है दिन तुम बिन तुम बिन तुम बिन अब […]

Read More

Hindi Poem-मझदार में है कश्ती

मझदार में है कश्ती किनारा ढूँढती हूँ हाँ मैं भी जीने का सहारा ढूँढती हूँ कितने दिन बीत गये देर भई उन्हें आने में जाने कैसी कटेंगे दिन कैसे रातें और इस बेरहम ज़माने की ये बातें लेकिन उम्मीद का दामन न छोड़ा था न छोड़ेंगे जीत ही पानी होगी अब तो हार का मुँह […]

Read More

Hindi Love Poem-आँखें बन जायें जब दिल की ज़ुबा

आँखें बन जायें जब दिल की ज़ुबा तो कैसे करें दिल की हालत बयान वो ठंडी रातें वो भीगी बरसातें वो प्यार में डूबी उसकी भोली बातें वो उसका रुक रुक कर धीरे धीरे चलना और उसको आता हुआ देख इस दिल का मचलना काश कुछ बदल जाये अपनी भी ये तकदीर बनूं मैं उसका […]

Read More

Hindi Love Poem-आँखों में है मेरी जो थोड़ी सी नमी

आँखों में है मेरी जो थोड़ी सी नमी क्या बताऊँ तुम्हें बस हैं तुम्हारी ही कमी याद करके तुम्हें नहीं थकता है ये दिल या खुदा आई है ये कैसी मुश्किल तुम्हारी आँखों का वो छलकता पानी लफ्ज़ निकलते थे जो तुम्हारी ज़ुबानी आज भी याद हैं मुझे वो सुबह और शाम जो मैं करता […]

Read More

Hindi Love Poem-अब तो तेरी ही याद में

अब तो तेरी ही याद में तड़पता है मेरा ये दिल तू ही तो है मेरे प्यार की वो मंज़िल तुझे खोजा है मैने जाने कितने ठिकानों मे कभी अपनो में तो कभी कुछ बेगानों में अब राहत है इस दिल को कि तू मेरे पास है तुझे क्या मालूम तू मेरे लिये कितनी खास है तेरी […]

Read More

Hindi Love Kavita -आँखों के रास्ते

आँखों के रास्ते छलकता जो पानी है  क्या बताएं आप से प्यार की एक निशानी है  नाम सुनकर आपका दिल जोर से यूँ धड़कता है  याद में बस आपकी रात दिन ये तड़पता है  मिल लो आकार मुझे करलो याद मुझे भी  मुझे दिल देकर देखो चैन आयेगा तुम्हें भी  प्यार के इस खेल में […]

Read More

Hindi Prem Kavya – हर पल

हर पल हम इस बात का इज़हार करते हैं  बार बार न जाने क्यों हम आपसे ही प्यार करते हैं  आप दिख जाओ तो हो जाती है अपनी सुबह  आप ने ही तो दी हैं मुझे जीने की एक वजह  आप के बिना फीकी मेरी हर सुबह शाम है  आप के बिना इस दिल को […]

Read More

Ishq Sufiyana – इश्क सूफियाना

लफ्ज़ बन जाते हैं जब दिल की जुबां बस हो जाता है अंदाजे इश्क पर खुदा मेहरबां एक खुदा वो है जो करता आया है बस रहमो करम एक खुदा तू है जो बनके मोहब्बत करता है क़त्ल-ऐ-रहम सब कहते हैं इश्क में कहाँ और क्या मज़ा पाते हो सूफियाना उनको क्या खबर – इश्क की गलियों […]

Read More