Hindi Love Poem-क्या बताऊँ कैसे सुनाऊँ

girl-429380_960_720

क्या बताऊँ कैसे सुनाऊँ किस हाल में हूँ

तेरे साथ तो आकाश में था आज पाताल में हूँ

तुझ बिन कटते नहीं दिन ना कटती हैं रात

मुझे याद आती हैं तेरी प्यारी सी मीठी मीठी बातें

तुझको पाकर के खुल गये थे अपने नसीब

पर तुझको खोकर हो गया मैं आज फिर गरीब

हर पल इस दिल को रेहता है बस तेरा इंतज़ार

आके मिलजा मुझसे कि अब ये दिल है बेकरार

Leave a Reply