Sad Hindi Poem- प्यार नहीं था था वो फ़साना


This slideshow requires JavaScript.

प्यार नहीं था
था वो फ़साना

मौसम बदले
तुम भी बदले
तुमको नया
प्यार निभाना
तब मैंने जाना
प्यार नहीं था
था वो फ़साना

जब मैं थी तन्हा
तुझको पूकारा
तूने पलट के ना
देखा दोबरा
तब मैंने जाना
हाँ मैंने जाना
प्यार नहीं था
था वो फ़साना

जब दिल ये टूटे
तब मैंने जाना
प्यार नहीं था
था वो फ़साना
था वो फ़साना

– अनुष्का सूरी

English Translation:

It wasn’t love, but an affair
When my heart was broken,
then I realized..
It wasn’t love,
but an affair
but an affair..
When I was lonely and I needed you,
I called you..
But you did not bother to
see me or meet me..
Then I realized,
yes I realized
It wasn’t love,
but an affair
Seasons changed
You also changed
You did not learn
how to respect love
Then I realized,
yes I realized
It wasn’t love,
but an affair

-Anushka Suri

How to read:

pyar nahi tha
tha wo fasana..

mausam badle
tum bhi badle
tumko naaya
pyaar nibhana
tab maine jana
pyar nahi tha
tha wo fasana

jab main thi tanha
tujhko pukara
tune palat ke na
dekha dobara
tab maine jana
haan manine jana
pyar nai tha
wo tha fasana

jab dil ye tuta
tab maine jana
pyar nahi tha
tha wo fasana
tha wo fasana

-Anushka Suri

Miss You Love Poem – आंसू भी तेरे हैं इश्क़ भी तेरा


alone-666078_960_720

आंसू भी तेरे हैं इश्क़ भी तेरा
अब तो हर वक़्त आंसू ही बहते हैं
शिकवा आंसुओ से भी नहीँ
न तुझसे, क्योंकि मुहब्बत तुझसे है
और आंसू भी तेरे हैं इश्क़ भी तेरा
गिला करूँ तो किससे?

गौरव

Aansu bhi tere hain ishq bhi tera
Ab to har bakat aanshu hi bhte hai
Shikwa aanso se bhi nai
Na Tujhse kyuki mhobbat tujhse hai
Aansu bhi tere hai ishq bhi tera
Gilla karu to kisse

-Gaurav

Miss You Poem for Him – दिल का दर्द


inside_out_sadness___disney_pixar-wallpaper-1366x768

दिल का दर्द आखों में उतर आता है
जहाँ देखूं बस तेरा चेहरा नज़र आता है
तेरी बातें बार बार याद आती हैं
तुझे याद कर आखें भर आती हैं
न रातों को सुकून मिलता है
न दिन को चैन आता है
जब देखो जहाँ देखो
तू याद आता है
होता तू इस जहाँ में अगर
तो तुझसे मिल पाती
पर तू है ऐसे जगह
जहाँ खुदा ही पहुंच पाता है
– अनुष्का सूरी

Miss Him Love Poetry-दिल की आवाज़


खो दिया उसे एक दिन
तो ये आँखे ही क्या,
दिल बहुत रोएगा….
इतना चाहा है दिल ने उसे,
किसी और का ना हो पाएगा….
क्या पता था इतना प्यार हो जाएगा,
मेरा कल तुमसे जुड़ जाएगा….
इतना करीब से गुज़रे हो दिल के,
कि निशान अभी भी बाकी है….
पहले तो खींच लिया मुझे,
ग़मों की गहराई से….
और अब कह दिया उसने,
खुशी नहीं है उसके पास….
आदत भी तो ऐसी हो गई है,
कि छोड़ नहीं पाऊँगी….
उसे क्या इलज़ाम देना,
करीब तो मैं आई थी….
वो तो कब से दूर था,
दिल पर तो मैंने लिया….
उसने तो बस मज़ाक समझा,
तो तकलीफ उसे क्यों हो….
पर फिर भी एक उम्मीद है उससे,
जब आएगा वो कल,
जिंदगी का सबसे मुश्किल भरा पल,
ना पास तेरे आ सकूँगी,
ना दूर तुझसे जा सकूँगी,
तो बस एक बार दुनिया को भूल कर,
एक आवाज़ दिल से देना,
और रोक लेना मुझे,
कदम क्या साँसे थम जाएँगी,
बस एक दिल की आवाज़…….
मेरे लिए………….

-लता कुशवाह

Sad Hindi Shayari for Lover-कसूर


inside_out_sadness___disney_pixar-wallpaper-1366x768

क्या कसूर था हमारा
जो हम इस कदर तनहा हो गए
कल जिन्होंने दिल से चाहा था हमें
आज वही बेवफा हो गए
यूँ तो तमन्नायें थी हज़ारों
मगर ज़िन्दगी से ठुकराये गए
हज़ारों हो जाएं चाहने वाले
पर जिसकी दिल में हुकूमत हो
ऐसा कौन मिलेगा
कभी भूले से याद ए हम
तो पलट के देखना
हमें वहीँ पाओगे
जहाँ कल तुमने साथ छोड़ा था
तुम्हारा रोज़ इंतज़ार करते हैं
तुमको बहुत प्यार करते हैं
दिल की आरज़ू है
तुम जहाँ भी रहो
हमसे गिले शिकवे न हों
चलते हैं हम इस दुनिया से
अपना ख्याल रखना
कभी भूले भटके
हमारा नाम ले लेना

-संगीता श्रीवास्तव

Painful Hindi Love Poem-दर्द का रिश्ता


This slideshow requires JavaScript.

कोई क्यों हमें इतना दर्द दे जाता है
कि इंसान खुदसे अजनबी हो जाता है
हज़ारों चहरे हैं इस दुनिया में
फिर भी एक चेहरे की तलाश क्यों रहती है
क्या दर्द का रिश्ता इतना गहरा होता है
कि ज़िन्दगी खुद एक शिकायत बन जाये
कैसे जिएंगे अब उसके बिन
जिससे दूर कभी रहे नहीं
एक बार मुड़ के तो देख लिया होता
न आँखों में कितने आंसू थे
ये एहसास तो लिया होता
चलो हम ही बेवफा सही
हम तो कल भी बदनाम थे
आज भी हो गए तो क्या नया हुआ
यूँ तो दिलों के बाजार में हज़ारों रिश्ते बिकते हैं
दर्द का रिश्ता अगर बिक जाये
तो ताउम्र दिल से तेरा नाम हो जाये
-संगीता श्रीवास्तव

Hindi Love Poem for Girlfriend-वो आई नहीं


 

इन थमे थमे इन लम्हों में
प्यार के कुछ नगमो में
दिल मेरा तुमसे कहता है
वो आई नहीं वो आई नहीं
चलती हुई इन पवनो में
जो तेरी ख़ुश्बू बहती है
वो जिस्म को मेरे छू के कहती
वो आई नहीं वो आई नहीं
हर लम्हा तुझ बिन हँसता
मुझे कहता मैं हूँ दीवाना
कहता ये तो हुआ बावरा

तेरे सपने देखें नजरें
जागी जागी इन आँखों से
सोयें तुझे पलकों में बसाये
वो आई नहीं वो आई नहीं
हर लम्हा सोचें मुलाकात हो
होंठों से होंठों की कुछ बात हो
तुम भी करो शैतानियाँ

हाथों में हमदम का हाथ हो
तनहा सफ़र और चांदनी रात हो
तेरी मेरी मुलाकात में
बारिश का भी साथ हो
और दिल कहे तुझे थामके
जो अबतक ना कहा वो कह जाऊं
सजदे में तेरे झुक जाऊँ
तेरी गोद में रख के सिर को
थोड़ी देर मुस्का जाऊँ
और तू देख प्यार से कह जाये
मेरी ज़िन्दगी को पूरा कर दे
शामिल होकर मुझमेँ ताकि
ज़िन्दगी हँस के कह दे
तेरा प्यार तेरा हुआ
कहके गले वो लग जाये
ख्वाब मेरा सच हो जाये
दीवाना बन मैं भी चिल्लाऊं
-गौरव