Hindi Love Poem- हुआ साथ जो तेरा मेरा

LOV

हुआ साथ जो तेरा मेरा
दुनिया में मचा खलबली का अँधेरा
साथ न छोडूंगा मैं तेरा कभी
क्योंकि तू ही तो एक अतीत मेरा
सोये ख्बाबों को तुमने जगा दिया है जो
पत्थर का था कभी, पिघला दिया है जो
सीने में फिर से दिल धड़का दिया है तुमने मेरा
हुआ साथ जो तेरा मेरा
दुनिया में मचा खलबली का अँधेरा
ख्वाइशे सिर्फ तुम हो मेरी
ज़िन्दगी तुम ही तो हो मेरी
ख़ुशी तुम हो मेरी
उदासी तुमसे ही दूर हो मेरी
हर दिन हर दिन हर पल हर लम्हा सिर्फ तुम ही हो मेरा
हुआ साथ जो तेरा मेरा
दुनिया में मचा खलबली का अँधेरा

-नवाज अंसारी 

 

Hua sath jo tera mera…
Duniya me macha khalbali ka andhera.. .
Sath na chhodunga me tera kabhi..
Kyuki tu hi to ek ateet hai mera…
Soye hue khabon ko tumne jaga diya hai jo..
Patthar ka tha kabhi, pighla diya hai jo..
Seene me fir se dil dhadka diya hai tumne mera..
Hua sath jo tera mera…
Duniya me macha khalbali ka andhera…
Khawaishein sirf tum ho meri..
Zindagi tum hi to ho meri..
Khushi tum ho meri..
Udaasi tumse hi door ho meri…
Har din har pal har lamha sirf tum hi ho mera…
Hua sath jo tera mera…
Duniya me macha khalbali ka andhera…

-Navaj Ansari

One thought on “Hindi Love Poem- हुआ साथ जो तेरा मेरा

Leave a Reply