Posted in Be Mine Hindi Love Poems, Emotional Hindi Love Poems, Hindi Love Letters, Hindi Love Poem, Hindi Love Poem For Girlfriend, Hindi Love Poem For Her, Hindi Love Poem to Propose a Girl, Hindi Love Poems by Readers, Hindi Love Shayari, Hindi Love Shayari for Girlfriend, Hindi Love Shayari for Her, I am in love Hindi Poems, I love you Hindi Poems, Love Poems for Valentines Day, Waiting for love Hindi Poems

Hindi Love Shayari- कश्मकश


winter_love-wallpaper-1280x1024

दबे दबे होंठो से कुछ बात
आज कह दो
दिल मैं जो दबाये हैं वो अरमान
आज कह दो
कह दो कि
मुझसे कितना प्यार करते हो
कह दो कि
दिल में सिर्फ मुझको रखते हो
न कह सको अगर होंठो से कुछ,
तो प्यार के कुछ ख़त मेरे नाम कर दो
कुछ तो कहो कुछ इशारा तो दो
हवाओं के झोंको से कह दो
या खूबसूरत फ़िज़ाओं से
बस प्यार है मुझसे एक बार तो कहदो
नहीँ कहते हो मुझसे कुछ तब भी कुछ इशारे होते हैं
ना जाने क्या कशिश है तुम्हारी आँखों में
कि देख के मुझे ये झुक जाती हैं
थोड़ी थोड़ी हया आती है इनको
और लज्जा से ये शर्मा जाती हैं
कभी कभी दांतो से होंठों को  दबाने लगते हैं
तो कभी कभी खुद मैं सिमटने लगते हैं
शायद ये दिल को पहली बार हुआ है
कुछ मीठा सा एहसास है
कई लोगो ने मुझसे कहा शायद तुम्हे भी प्यार हुआ है
कैसे ये जान लूँ क्यों लोगों की बात मान लूँ
एक बार ही सही दबे दबे होंठो से कुछ बात कह दो
कि है आग प्यार की आपके दिल में दबी कहीं
इतना एक बार कह दो
मेरी कश्मकश को एक नाम दे दो
प्यार का कोई पैगाम दे दो
फिर लिखो कोई दिल की कहानी
कि थी कोई हीर जो थी रांझा की दीवानी
जिसने माना था तुम्हें प्यार और कहा था
कि दबे दबे होंठो से कुछ बात कह दो
कि  है तुम्हें भी है प्यार मुझसे
इतना बस एक बार कह दो
-गौरव

Author:

Official Publisher for poetry on hindilovepoems.com

2 thoughts on “Hindi Love Shayari- कश्मकश

  1. Tum na hote toh pata nahi hum kya hote…
    Shayad iss zindagi se rusva hue hote…
    Tum na aate toh hum kahi kho gye hote…
    Gumo ki barisho me kahi bhigh rahe hote…
    Tum na milate toh Dil ko sahara nahi mila hota…
    Mann hi mann Dil roya hota…
    Tum na milate toh har sham bebas hui hoti…
    Inn Andheron k sath jeene ki aadat hui hoti…
    Tum na milate toh Zindagi sukhe patte ki tarah hoti…
    Khud ke hi kitaab me band ki hoti…
    Tum hai toh Hum hai
    Tumhare siva humara dusra kon hai..
    Ab bas yahi dua khudase ki Usse kabhi juda na karna uske bin jeene kabhi saja na dena…🙈❤😘😘

    Like

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s