Hindi Poem – दिल की चाहत

दिल की चाहत है तुझे चाहूं यूँ ही हमेशा
खिलती रहे तेरे लब की चांदनी बस यूँ ही
ख्वाबों में तू ही आती रहे
दिलों-जान में यूँ ही समाती रहे
बरकरार रहे तेरे सुन्दर चेहरे का ये नूर
दिल के रहे हमेशा तू करीब नज़रों से भले हो दूर

– अनुष्का सूरी

Leave a Reply