Hindi Love Poem for Lovers-तुमसे ही प्यार है

sdd

हाँ मुझे तुमसे ही प्यार है,

हाँ मुझे तुमसे ही प्यार है,

पर तुम कहाँ हो, मुझे तुम्हारा अभी तक इंतज़ार है,

हाँ मुझे तुमसे ही प्यार है,

कभी सपनो से बाहर भी आया करो,

मुझे अपनी अदा से तड़पाया करो,

किस कदर तुम्हारा मुझ पर खुमार है,

हाँ मुझे तुमसे ही प्यार है,

हाँ मुझे तुम से प्यार है,

तुम झरने सी चंचल, तुम पर्वत सी सुन्दर,

करती हो हर पल, तुम पायल सी छन-छन,

तुम्हारी मोरनी सी चल का अब तक मुझे इंतज़ार है,

हाँ कहता हूँ फिर से मुझे तुम से प्यार है,

अब तो आजाओ मेरे सपनो से बाहर,

इस दुनिया को भी तुम्हारी झलक का इंतज़ार है,

हाँ मुझे तुमसे ही प्यार है,

हाँ मुझे तुमसे ही प्यार है

-सत्यम राजा

Hindi Romantic Poetry -नज़रों की ज़ुबान

people-2563491__340.jpg

नज़रों की ज़ुबान
सिमटे वो हम में इस कदर
कि हमारे जज़्बात बह गये..
बरसों से दिल में बसे एहसास थम गये..
नज़रों नज़रों में होने लगी हमारी बातें..
आँखें बन गयी दिल की ज़ुबान..
कहने लगी तुम्हारे दिल की कहानी..
अब कोई कुछ ना कह पायेगा..
प्यार तुमसे बेपनाह है
आँखों आँखों में बयाँ हो जायेगा.
-गौरव

Nazron ki zubaan
Simate wo ham mein is kadar ki hamare jazbat bah gaye..
Barson se dil mein basey ehsaas tham gaye..
Nazron nazron mein hone lagi hamari batein..
Aankhein ban gayi dil ki zubaan..
Kahne lagi tumhare dil ki kahani..
Ab koi kuch na kah payega..
Pyar tumse bepanah hai
Aankhon aankhon mein bayan ho jayega.
-Gaurav

Romantic Poetry- तेरे लिये ही

indian-622358_960_720

तेरे लिये ही सजती हूँ सँवरती हूँ
होती हूँ मैं अच्छे से तैयार
कभी तो फुरसत से
मुझको भी तू ले निहार
ये मेरे माथे की बिंदिया
हाथों की मेरी चूडियाँ
तुझको पुकारती हैं सजना
आजा अब कैसी मजबूरियाँ

– अनुष्का सूरी

Hindi Love Poem -जब भी समय की धारा बहेगी

जब भी समय की धारा बहेगी
यूं मेरे गीत हर पल गुनगुनाये जायेंगे..
प्यार के ये मेरे तराने तुझे याद आयेंगे..
रेत पे मैने लिखे हैं  जो जज़्बात
वो समय की धारा मैं बिखर न पायेंगे..
बस गूँजेंगे तेरे दिल मैं और पल पल मुस्कुरायेंगे |

Hindi Love Poem-आँखें बन जायें जब दिल की ज़ुबा

woman-1148923_960_720

आँखें बन जायें जब दिल की ज़ुबा

तो कैसे करें दिल की हालत बयान

वो ठंडी रातें वो भीगी बरसातें

वो प्यार में डूबी उसकी भोली बातें

वो उसका रुक रुक कर धीरे धीरे चलना

और उसको आता हुआ देख इस दिल का मचलना

काश कुछ बदल जाये अपनी भी ये तकदीर

बनूं मैं उसका रांझा और वो मेरी हीर

Hindi Love Poem – बस और प्यार

प्यार की मंज़िल क्या है बस और प्यार

दिल के समंदर का साहिल तू ही है यार

तू मेरा दिलबर तू ही है मेरा प्यार

तेरा ही तो रात दिन मैं करूँ इंतज़ार

बस एक तेरे लिये ही है मेरा दिल बेकरार

बढ़ता जा रहा है अब ये खुमार

तुझको पुकारे मेरा ये दिल बार बार

तू भी करले अब मुझसे प्यार

Hindi Love Poem-बहुत दिन गुज़र चुके

girl-517555_960_720

बहुत दिन गुज़र चुके तेरी जुदाई में

कटती है मेरी रातें आज भी तन्हाई में

तुझे याद करके आज भी में रोता हूँ

क्या बताऊँ न कुछ पाता बस खोता हूँ

तेरी वो प्यारी सी मुस्कान याद आती है

तेरी वो हँसी की आवाज़ मेरे कानो में गुदगुदाती है

तेरे वो मीठे बोल आज भी लुभाते हैं

तेरे संग बिताये लम्हे आज भी दिल को भाते हैं

तुझसे मिलने को आज भी बेकरार है मेरा दिल

काश कभी कहीं से आकर तू मुझे मिल

Hindi Love Kavita -आँखों के रास्ते

girl_and_flowers_2-wallpaper-1366x768

आँखों के रास्ते छलकता जो पानी है 
क्या बताएं आप से प्यार की एक निशानी है 
नाम सुनकर आपका दिल जोर से यूँ धड़कता है 
याद में बस आपकी रात दिन ये तड़पता है 
मिल लो आकार मुझे करलो याद मुझे भी 
मुझे दिल देकर देखो चैन आयेगा तुम्हें भी 
प्यार के इस खेल में चाहे हो जीत या हो हार 
तुम्हारी खुशियों के लिए सब लुटाने को हूँ मैं तैयार  

Hindi Prem Kavya – हर पल

हर पल हम इस बात का इज़हार करते हैं 
बार बार न जाने क्यों हम आपसे ही प्यार करते हैं 
आप दिख जाओ तो हो जाती है अपनी सुबह 
आप ने ही तो दी हैं मुझे जीने की एक वजह 
आप के बिना फीकी मेरी हर सुबह शाम है 
आप के बिना इस दिल को न चैन न आराम है 
फूल खिल जाते हैं हस दो अगर आप एक बार 
कभी तो मुस्कुरा के कह दो क्या आप को भी है मुझसे प्यार