Hindi Love Poem on Destiny-Jo Hota Hai Acche Ke Liye Hota hai

जो होता है अच्छे के लिये होता हैबड़ी चाहत थी कि मैं भी इश्क कर लूं,चांद- तारे तोड़ लाने की बाते कर लूं।तेरी हर मुश्किलों में साथ निभाता रहूं,जन्मों-जनम तक मैं तेरा ही रहूं।फिर वो सुहानी सी मौसम की घड़ी आयी,दिल में एक आशा की किरण लायी।सोचा चलो इज़हार कर दूं आज,दिनों बाद आयी थी […]

Read More

Sad Poem for Him-Tumse

तुमसेउस एक दिन जब बातें शुरू हुई तुमसेलगा कुछ तो अलग सा है तुम मेंलगा कुछ तो नया सा है तुम मेंफिर रोज़ की बातें होती गयीऔर यूं बिना सोचे पिघलती रही मैं उन मेंयूं ही बिना समझे फिसलती रही उस रास्ते पेहाँ पता था मुझको दोबारा उसी रास्ते जा रही हूँ जहाँ गम बहुत […]

Read More

Hindi Love Poem on Separation- प्यार की धड़कन

बिछड़ी प्यार की धड़कने आँखों में नमी दे बन्द राहों की उलझनें जीने न दे वो खामोशियाँ भी इश्क़ को ही तलाशे कुछ अनकही सी ख्वाइशें दिल तो छुपा दे ये मोहोब्बत कैसा जो अंग अंग लुटा न दे…… -स्वेता Bichadi pyaar ki dhadkaney Aankhon mein nami de Bandh raahon ki uljhan Jeene na de […]

Read More

Hindi Love Poem on Separation-आँखें जो खुली

आँखें जो खुली तो उन्हें अपने करीब पाया ना था कभी थे रूह में शामिल आज उनका साया ना था बेपनाह मोहब्बत की जिनसे उम्मीदें लिये बैठे थे उनसे तन्हाइयों की सौगातें मिलेंगी बताया ना था एक हम ही कसीदे हुस्न के हर बार पढ़ते रहे पर उसने तो कभी हाल-ए-दिल सुनाया ना था वो […]

Read More

Hindi Love Poem for Him, Her-दिल की चाहत

दिल की चाहत कल भी तुम थे आज भी तुम हो मेरी ज़रूरत कल भी तुम थे आज भी तुम हो तुमने तो मुझे कबका भुला दिया मेरी आदत कल भी तुम थे आज भी तुम हो तुमने न जाना कितना तुमको प्यार किया मेरी इबादत कल भी तुम थे आज भी तुम हो बेखबर […]

Read More

Hindi Love Poem – दिल दिया दर्द लिया

दिल दिया दर्द लिया हाँ मैने इश्क़ किया दिल दिया दर्द लिया हाँ मैने इश्क़ किया तेरा दीदार किया हाँ मैंने इश्क़ किया तुझ पे ऐतबार किया हाँ मैंने इश्क़ किया दिल दिया दर्द लिया हाँ मैंने इश्क़ किया दिल दिया दर्द लिया हाँ मैंने इश्क़ किया तेरे बिन तड़पे ये जिया हाँ मैंने इश्क़ […]

Read More

Hindi Love Poem For Her -ऐ दिल

ऐ दिल ! तू फिर मुस्कुराया है है कुछ अपनी बात, या फिरउनकी बात कहने आया है बता दिल तू फिर क्यों मुस्कुराया है ? सियासी दौर मैं अब तो कुछ नजरों ने भी डराया है है कोई प्रेम आमंत्रण या फिर किसी ने प्रेम जाल बिछाया है बता मेरे दिल! तू क्यों मुस्कुराया है […]

Read More

Hindi Love Poem for Lost Love-ए दोस्त जब जाना ही था  

ए दोस्त जब जाना ही था   ऐ दोस्त जब जाना ही था, तो पलकों के आँसू बन कर क्यों रह गये? हर पल हम तुझे ही सोचते रहे, दुआ में सिर्फ तेरा ही नाम लेते रहे, दुआ कबूल करके खुदा भी प्यार से कहते गये, कि ‘वो सब तो आगे चले गये, फिर तुम […]

Read More