Hindi Love Shayari-खुली किताब

love_hug_2-wallpaper-1366x768

मेरी ज़िन्दगी की खुली किताब हो तुम
मेरे जीने का एहसास हो तुम
मेरे लिए एक प्यारा सा गुलाब हो तुम
जो हमेशा महकता रहता है
तुम हंसती हो तो ऐसा लगता है
जैसे सारी खुशियां मिल गयी मुझे
तुम्हारे प्यार में इस कदर डूब जाता हूँ
कि दिन और रात का होश नहीं रहता
मेरे लिए सबसे ख़ास हो तुम
मेरी ज़िन्दगी की रौशनी हो तुम
मेरे लिए प्यार की मूरत हो तुम
चाँद से भी प्यारी सूरत हो तुम
सबसे रंगीली तस्वीर हो तुम
जब भी तुमको देखता हूँ
और प्यार हो जाता है

-रजत कुमार

Hindi Love Shayari for Valentine -दिल की किताब

neverland_vacation-wallpaper-1366x768

मेरे दिल की किताब में
मैंने तुझे सजाया
मेरी हर याद में
मैंने तुझे बसाया
मेरी हर फरियाद में
बस तेरा नाम आया
दिन में रात में
तेरा ख्याल आया
धूप में बरसात में
सामने तुझे पाया
ख़ुशी में गम में
तूने साथ निभाया
अब मेरी ज़िन्दगी में
मैंने तुझे हमसफ़र बनाया

-अनुष्का सूरी

English Translation:

In my heart’s book

I placed you with dignity

In my each memory

I missed you

In my every prayer

Only your name came

In day In night

I only thought about you

In sunshine, in rain

I found you besides me

In happiness, in sorrow

You stood besides me

Now in my life

I chose you as my soulmate

-Anushka Suri

 

Hindi Love Shayari for Her – एक ख्वाब

girl_with_headphone___by_cs9_fx_design-wallpaper-1366x768

दिल ने देखा एक ख्वाब
ख्वाब में थी तुम
हाँ तुम, तुम

तुम्हारा सुन्दर भोला चेहरा
ज़ुल्फ़ों का कुछ रंग सुनहरा
देख के तुझको दिल बेचारा
हो गया तेरा, हाँ बस तेरा

नींद जब खुली मेरी जाना
तब ये जाना तूने न जाना
मैं तो हूँ तेरा आशिक़
क्यों तुझसे हूँ बेगाना

तू ही मेरी रूह की राहत
तू ही मेरी पहली चाहत
काश हो जाये ऐसी रहमत
तू मिल जाये मुझको जन्नत

दिल ने देखा एक ख्वाब
ख्वाब में थी तुम
हाँ तुम, तुम

-अनुष्का सूरी

Hindi Shayari for Him-आज ख़ुशी का आलम है

love_car-wallpaper-1366x768

आज ख़ुशी का आलम है
साथ में मेरा जानम है
तेज़ दिल की धड़कन है
साथ में मेरा हमदम है

आज मैं हवा में उड़ूँ उड़ूँ
आज मैं खूब बहकूँ चहकूं
गुलाब सा खिला खिला चेहरा
रूप मेरा महका निखरा

ऐ तेज़ हवा ज़रा थम जा
वक़्त ज़रा तू भी थम जा
करने दो मुझे महसूस ज़रा
ये एहसास प्रेम भरा

-अनुष्का सूरी

Valentine Day Love Poem-जब से आये हो ज़िंदगी में

जब से आये हो ज़िंदगी में ये लम्हे सुहाने हो गए, Valentine Day (4)
हर साल देते हैं खुमारी जो फरवरी में मचल गए,
वो था वैलेंटाइन वीक जो ज़िंदगी को छू गया,
कुछ करके गहरा जादू जो दिल में पानी बन गया,
रोज़ डे को जो दिया गुलाब वो वैलेंटाइन डे को खिल गया,
प्रोपोस डे किया था जो तुमको वो चॉकलेट की मिठास में घुल गया,
टेडी डे पे दिया था टेडी प्रोमिस डे पर वादे,
होंगे हर पल साथ तुम्हारे चाहे दिन हो या हो रातें,
चूम तुझे ये एहसास दिलाऊँ किस डे तेरे साथ मानाऊँ,
जब भी हो उदास ये दिल हर पल तुझे गले लगाऊँ,
हग करके हग डे पे दिल में तुझे अपने बसाऊँ,
अब वो दिन भी आ गया प्यार का फूल जो खिल गया,
थी तुम मेरे सामने हाथों में था हाथ,
कुछ मुस्काके हमने बोला कुछ शर्माके राज़ ये खोला,
प्यारी परी जब तुम हो साथ वैलेंटाइन डे मेरा खास,
अब है मेरे दिल का कहना हर वैलेंटाइन तेरे साथ में रहना,
हमेशा तेरे साथ में जीना
-गौरव

Hindi Love Poem for Girlfriend-जान तेरे नाम

लाल गुलाब की क्या मजाल animated_rose1.
जो तुम्हारे सामने खिल जायें
तुम एक बार इशारा करदो
हम यहीं धूल हो जायें
झील सी गहरी नीली आँखें
मीठी मीठी मिश्री सी बातें 
लम्बे काले घनेरे बाल
हाय मतवारी तेरी चाल
अगर हो जाये कुछ गुस्ताखी
आज दे देना हमको माफी
जबसे तुमको देखा है
खुद से हुये बेगाने
तुम को बार बार सोचा है
तू माने या ना माने
आज मैं भी एक एलान करता हूँ
मैं ये जान तेरे नाम करता हूँ
-अनुष्का सूरी

Hindi Love Poem For Her-एक रात

 

moon-1859616__340.jpg

मैं तेरे चहरे को पढ़ना चाहता हूँ किताब की तरह
तेरे साथ बीते हुए हर लम्हे को पिरोना चाहता हूँ ख्वाब की तरह
मैं जानता हूँ नहीं मिल सकता हूँ तुमको हर रोज़..
इसलिये ख्वाबों में आके गले लगाना चाहता हूँ  मीठे एहसास की तरह.
गले मिलता हूँ जब मैं तो आँखें मेरी नॅम हो जाती हैं
भीगी हुई पलकों से लिपट के रोना चाहता हूँ तेरी याद की तरह..
चंद पल जब रह जाते हैं सवेरा होने में..जी भर के रोना चाहता हूँ
एक बार गले लगा लेना चाहता हूँ इस रात के खूबसूरत एहसास की तरह 

गौरव

Hindi Romantic Poetry -नज़रों की ज़ुबान

people-2563491__340.jpg

नज़रों की ज़ुबान
सिमटे वो हम में इस कदर
कि हमारे जज़्बात बह गये..
बरसों से दिल में बसे एहसास थम गये..
नज़रों नज़रों में होने लगी हमारी बातें..
आँखें बन गयी दिल की ज़ुबान..
कहने लगी तुम्हारे दिल की कहानी..
अब कोई कुछ ना कह पायेगा..
प्यार तुमसे बेपनाह है
आँखों आँखों में बयाँ हो जायेगा.
-गौरव

Nazron ki zubaan
Simate wo ham mein is kadar ki hamare jazbat bah gaye..
Barson se dil mein basey ehsaas tham gaye..
Nazron nazron mein hone lagi hamari batein..
Aankhein ban gayi dil ki zubaan..
Kahne lagi tumhare dil ki kahani..
Ab koi kuch na kah payega..
Pyar tumse bepanah hai
Aankhon aankhon mein bayan ho jayega.
-Gaurav

Hindi Love Poem-प्यार की रात

human-1215160__340.jpg
रात के दरमियां वो प्यार बन के छा गये
नज़रों से छुआ उन्होने दिल में वो समां गये
बढ़ती रही नज़दीकियाँ हमारी,
खुश्बू बदन की छूने लगी
महके वो इस चांदनी रात में रूह में बसने लगे
होठों की तपिश नज़दीकियों से बढ़ने लगी, जिस्म उनके जलने लगे
बढ़ती रही पल पल नज़दीकियाँ इस चांदनी रात में प्यार में खोने लगे
सिमट के एक दूसरे में एक दूसरे के होने लगे.
-गौरव
Raat ke darmiyaan wo pyar ban ke cha gaye
Nazron se chua unhone dil mein wo sama gaye
Badhti rahi nazdikiyan hamari,
khushbu badan ki choone lagi
Mahke wo is chandni raat mein rooh eain basne lage
Hothon ki tapish nazdikiyon se badhne lagi, jism unke jalne lage
badhti rahi pal pal nazdikiyan is chandni raat mein pyar mein khone lage
Simat ke ek doosre mein ek doosre ke hone lage.
-Gaurav