Missing Him Love Poem-Ek Waqt Tha

एक वक़्त था (कविता का शीर्षक) एक वक़्त था .. जब हम अजनबी हुआ करते थे एक वक़्त था . जब वो अजनबी हो कर भी अपना सा लगा करता था एक वक़्त था . जब आंखें सिर्फ उसी को ढूंढा करती थी . एक वक़्त था .. जब उसे न देखो तो बेचैनी सी […]

Read More

Sad Poem for Him-Tumse

तुमसेउस एक दिन जब बातें शुरू हुई तुमसेलगा कुछ तो अलग सा है तुम मेंलगा कुछ तो नया सा है तुम मेंफिर रोज़ की बातें होती गयीऔर यूं बिना सोचे पिघलती रही मैं उन मेंयूं ही बिना समझे फिसलती रही उस रास्ते पेहाँ पता था मुझको दोबारा उसी रास्ते जा रही हूँ जहाँ गम बहुत […]

Read More

Sad Hindi Love Poem-Ek Sahara Mila Tha

एक सहारा मिला था (कविता का शीर्षक) एक सहारा मिला था,जीवन में आगे बढ़ने के लिएआज वो भी छूटा सा नज़र आ रहा हैजो बनाया था कभी सपनों का महल,आज वो भी टूटा से नज़र आ रहा हैजीवन की नदी पार करने काकोई किनारा नहीं दिखाई पड़ता,बस चारों ओर समंदर नज़र आ रहा हैउलझ गया […]

Read More