Hindi Love Poem on Separation- प्यार की धड़कन


बिछड़ी प्यार की धड़कने
आँखों में नमी दे
बन्द राहों की उलझनें जीने न दे
वो खामोशियाँ भी इश्क़ को ही तलाशे
कुछ अनकही सी ख्वाइशें
दिल तो छुपा दे ये मोहोब्बत
कैसा जो अंग अंग लुटा न दे……

-स्वेता

Bichadi pyaar ki dhadkaney
Aankhon mein nami de
Bandh raahon ki uljhan Jeene na de
Vo khamoshiyaan bhi Ishq ko hi talashe
Kuch ankahi si khwaahishey
Dil ne chupa de Yeh mohobbat
kaisa Jo ang ang luta na de

-Swetha

Hindi Love Poem on Separation-आँखें जो खुली


आँखें जो खुली तो उन्हें अपने करीब पाया ना था
कभी थे रूह में शामिल आज उनका साया ना था
बेपनाह मोहब्बत की जिनसे उम्मीदें लिये बैठे थे
उनसे तन्हाइयों की सौगातें मिलेंगी बताया ना था
एक हम ही कसीदे हुस्न के हर बार पढ़ते रहे पर
उसने तो कभी हाल-ए-दिल सुनाया ना था
वो फिरते रहे दिल में ना जाने कितने राज लिये
हमने तो कभी उनसे जज्बातों को छुपाया ना था
जाने क्यों हम बेवजह मदहोश हुआ करते थे
जाम आँखों से तो कभी उसने पिलाया ना था
मीलों कब्ज़ा कर बना रखा था सपनों का महल पर
उसने वो ख़्वाब कभी आँखों में सजाया ना था
धड़कन ‘मौन’ हुई अब एक आह की आवाज़ है
शिकवा क्या उनसे जिसने कभी अपना बनाया ना था

-अमित मिश्रा

Aankhein jo khuli thi to unhe apne kareeb paya naa tha
Kabhi they ruh mein shamil aaj unka saya naa tha
Bepanaah mohabbat ki jinse umid liye beithe they
Unse tanhai ki saugate milegi btaya naa tha
Ek hum hi kaside husan ke har baar padte rahe par
Unse to kabhi haal ae dil sunaya naa tha
Wo firte rahe dil me naa jane kitne raaz liye
Hamne to kabhi unse jazbaton ko chupaya naa tha
Jane kyon hum bevajah madhosh hua karte they
Jaam aankhon se to kabhi usne pilaya na tha
Milon kabza kar bana rakha tha sapno ka mahal par
Usne wo khwab kabhi aankhon me sajaya na tha
Dhadkan maun hue ab ek aah ki aawaz hai
Shikwa kya unse jisne kabhi apna banaya naa tha

-Amit Mishra

Hindi Love Motivational Poem – प्यार ताकत है खुदा की ये तू जानले


प्यार ताकत है खुदा की ये तू जानले
महोब्बत नूर है रूह का ये तू मानले
चल दिखा तेरी ताकत, ला आसमान जमीन पर
है जिगर में जज्बा, भेज कयामत को भी ऊपर
तो सारी कायनात है तेरी ये तू ठान ले
प्यार ताकत है खुदा की ये तू जानले
चिर-कौओ को खिला दे ऐसी लाश नही है तू
जिंदा होकर मर जाए ये एहसास नही है तू
चल उठ खड़ा हो, अंत नहीं है तू
इश्क़ की दुनिया का कोई संत नहीं है तू
तुझे लड़ना ही होगा ये तू ठान ले
प्यार ताकत है खुदा की ये तू जानले
कमजोर नहीं, बलवान है तू
चंद पलों का मेहमान है तू
खुद की जिंदगी का अरमान है तू
हर कयामत का सौदागर है तू
तू बस अपने आप को पहचनाले
प्यार ताकत है खुदा की ये तू जानले

– अजिंक्य गंगावणे

Pyar Takat Hai Khuda Ki Ye Tu Janale
Mahobbat Nur Hai Ruh Ka Ye Tu Manale
Chal Dikha Teri Taqat, La Asaman Jamin Par
Hai Jigar Me Jajba, Bhej Kayamt Ko Bhi Upar
To Sari Kayanat Hai Teri Tu Than Le
Pyar Taqat Hai Khuda Ki Ye Tu Janale
Chir-kauo Ko Khila De, Esi Lash Nai Hai Tu
Jinda Hoke Mar Jaye, Ye Ehasas Nahi Hai Tu
Chal Uth Khada Ho, Ant Nahi Hai Tu
Ishq Ki Duniya Ka Koi Sant Nahi Hai Tu
Tujhe Ladna Hi Hoga Tu Than Le
Pyar Taqat Hai Khuda Ki Ye Tu Janale
Kamjor Nahi, Balawan Hai Tu
Chand Palo Ka Mehaman Hai Tu
Khud Ki Jindagi Ka Araman Hai Tu
Har Kayamat Ka Saudagar Hai Tu
Tu Bas Apne Aap Ko Pehachanale
Pyar Taqat Hai Khuda Ki Ye Tu Janale

– Ajinkya Gangawane

Hindi Love Poem Expressing Love – जीवन को मेरे तूने महकाया


जीवन को मेरे तूने महकाया है ऐसे,
खुशबू से गुलिस्तां महकता हो जैसे।

हर जन्म रहे साथ बस तेरा,
सागर में पानी रहता हो जैसे।

बांहों में भर कर आगोश में ले लो,
सीप में मोती रमता हो जैसे।

छुपा लो दिन के किसी कोने में,
आँखों में कोई ख्वाब बसता हो जैसे।

तेरी जुदाई का असर ये हो चला अब,
पर कटा पंछी तड़पता हो जैसे।

कवि ‘राज़’ भी है नादान कितना,
दूर होकर भी कोई यूँ मिटाना है ऐसे ?

~राज़ सोरखी “दीवाना कवि”

Jivan ko mere tune mekaya hai ese
Khusbu se gulisthan mehkta hai jese

Har janam rhe sath bus tera
Sagar me pani rehta ho jese

Bahon me bhar kar aagosh mein le lo
Seep me moti ramta ho jese

Chupa lo din k kisi kone mein
Aankhaon me koi khbab basta ho jese

Teri judai ka asar ye ho chla ab
Par kta panchi tadpta ho jese

Kavi raj bhi hai nadan kitna
Dur hokar bhi yun mitana hai ese

~Raj sorkhi”diwana kavi”

Hindi Poem for Love – वो आये हमारी जिंदगी में इस तरह


sc

वो आये हमारी जिंदगी में इस तरह
की हमें खुद से मिला दिया
हमने पूछा उस से की क्या न्यौछावर करें आप पे
तो आके उन्होंने धीमे से मेरे कानो में कहा
मुझे सिर्फ आप चाहिये जिंदगी जीने के लिये

– रुबी ग्रोवर

Wo aaye hamari jindagi mein is tarah …
ki hamein khud se mila diya…
hamne pocha us se ki kya nyauchaavar karein ap pe…
to aake unhone dheeme se hamare kaano mai kha….
Muje sirf aap chaiye jindagi jeene ke liye…

– Ruby Grover

Hindi Poem for Girlfriend – दिल कहता है


ice_heart-t2
मेरे दिल की अावाज़ है तू
प्रेम के सुर का साज़ है तू
अांखो से छलकती बरसात है तू
होठों से अनकही बात है तू
औरों के लिए होगी तू अप्सरा
मेरे लिए तो मुमताज़ है तू
दिल कहता है मेरा
तुझको दिल से पुकारूं
कभी तेरी जुल्फों से खेलूं
कभी तेरे बिखरे बाल सवारूं
कभी तुझको छू लूँ
कभी तुझको पा लूँ
कभी तुझको पूजूं
कभी तुझको चाहूँ
कभी यूँ ही मैं तुझको
अपना बना लूँ
-अनुष्का सूरी 

Hindi Love Poem- डायरी


diary.jpg

धूल जमी डायरी के कुछ पन्ने जो खोले,
तेरी यादो के सिलसिले फिर काबिज़ हो गए,
पलटता रहा पन्ने और फिर बहने लगा
जज्बातों का समुंद्र जो कभी हिलोरे लेता था मुझमे,
भले ही बेजान खामोश सी हो गयी थी
वो लहरे कुछ लम्हात के लिए,
पर यकीन मान एक तूफ़ान
तेरी यादो का हर रोज बहता था मेरी आँखों से,
आज जब खोली है वो डायरी तो खुश्बू के तरह महक रहा है
तेरा प्यार फिर से फिजाओ में,और भिगो रहा है
ये समुंद्र तेरी मोहब्बत का मुझे इस तरह
की जैसे मेरा पहला प्यार बस अभी इसी वक़्त ही हुआ हो।

गौरव