Hindi Love Poem for Husband-Pyar Pati Ka

प्यार पति का (कविता का शीर्षक)इतना क्यों प्यार करते हो तुम?मांगू सौ रुपैया कभी भी,सौ बार ही सोचते हो तुम,इतना क्यों प्यार करते हो तुम?आऊं कभी थक कर अगर,या रहूँ बीमार घर पर,सिर्फ अंडा कढ़ी से काम चला लेते हो तुम,इतना क्यों प्यार करते हो तुम?ज़रूरत पड़ी जब भी तुम्हारी,चार कदम पीछे हट जाते हो […]

Read More

Hindi Poem for Husband – मेहंदी तेरे नाम की

  तेरे नाम की मेहंदी सजाई मैंने हाथों में तुझको छुपाया मैंने अपनी साँसों में चढ़ा रंग गहरा तेरे प्यार का उतार न पाऊँ, हुआ असर ऐसा तेरे प्यार का लिखा है तेरा नाम मैंने अपने हथेली पर मिटा सके न कोई उसे पानी से दिल पे लिखा तेरा नाम मिट न पाए किसी से […]

Read More