Hindi Poem for Husband – मेहंदी तेरे नाम की


wedding-1404621_960_720.jpg 

तेरे नाम की मेहंदी सजाई मैंने हाथों में
तुझको छुपाया मैंने अपनी साँसों में
चढ़ा रंग गहरा तेरे प्यार का
उतार न पाऊँ, हुआ असर ऐसा तेरे प्यार का
लिखा है तेरा नाम मैंने अपने हथेली पर
मिटा सके न कोई उसे पानी से
दिल पे लिखा तेरा नाम
मिट न पाए किसी से

-कविता परमार

Tere naam ki mehendi sajai maine hatho mei
Tujhko chupaya maine apni sanso mei
Chadha Rang gehra tere pyar ka
Utaar na pau, hua asar aisa tere pyar ka
Likha hai tera nam maine apne hatheli par
Mita sake na koi use pani se
Dil pe likha tera naam
Mit na paaye kisi se

-Kavita Parmar