Hindi Love Poem-Likh Na Sake

लिख न सके
बहुत कुछ सोचा पर कम लिखूं
कभी आप कभी मैं कभी हम लिखूं
आप का प्यार लिखूं आप की वफा लिखूं
आप की शरमो हया लिखूं
आप की बातें लिखूं
आप के साथ बितायी हसीन रात लिखूं
अब आप ही बताइए कि मैं क्या लिखूं
-नेहा चौधरी

Posted by

Official Publisher for poetry on hindilovepoems.com

One thought on “Hindi Love Poem-Likh Na Sake

  1. kamal karti ho yrr kya likhu kya likhu karte krte bahut kuch likh diya….. vese bahut shandaar likha h👍👍

Leave a Reply to Vishnu kumawat Cancel reply