Hindi Love Poem Expressing Love – मेरा दिल

प्यार अब कुछ इस कदर हम पर छा रहा है मेरा दिल मुझे मेरे महबूब का हाल बता रहा है बड़ा समझाया इस दिल ए नादान को पर ये तो मस्त गगन में उड़ता चला जा रहा है प्यार अब कुछ इस कदर हम पर छा रहा है मेरा दिल मुझे मेरे महबूब का हाल […]

Read More

Hindi Love Poem-अफ़साना मेरी मोहब्बत का

प्यार है तू मेरा मैं तेरी फिदाई जर जैसे बाल है तेरे हिरण जैसी आँखे चेरहा है गुल के जैसा दर्पण जैसी बातें अदाये है कमर के जैसी गुल के जैसी सासे परिवास भी फीकी लगती है सजन तुम्हारे आगे ये तेरी मोहब्बत का नशा है या मेरे दिल से निकला एक तराना हर साँस […]

Read More

Hindi Love Poem-किस ओर

थम गई है सोच भी थम गई है मंज़िल भी ना कोई साथी है ना कोई हमसफ़र चलना तो है लेकिन किस ओर अँधेरे को चीर कर जाना है कही लेकिन किस ओर और क्यूँ ? -दिव्या Tham gayi hai soch bhi Tham gayi hai manzil bhi Na koi sathi hai Na koi ham safar […]

Read More

Hindi Love Poem For Her – आँखे तेरी भी नम हो

आँखे तेरी भी नम हो पर मुझसे कम हो दिल तेरा भी टूटे पर गम जो मिले मुझसे कम हो तू भूल जाये किसी को पर मैं ना भुला पाऊंगा जिस शिद्दत से चाहा था तुझको उसी शिद्दत से चाहुँगा ना पास आऊँगा ना दूर जाऊँगा बस छुप छुप कर तुझे चाहुँगा मेरी तम्मनाओं के […]

Read More

Hindi Love Poem For Her-लबों की दस्तक

नर्म लबों की जो छुई है दस्तक। पहलू में कोई गुलजार है। फिर है मोह्बत उस आशिक़ी से। शामों को फिर तेरा इंतेजार है। गिरती है पलकें उठती है पलकें। दिल ये कैसा बेकरार है। समुन्दर के न जाने कितने है अर्से। कितने दिन बीते कितने हम तरसे। धड़कन को बस तेरा इंतेजार है। तेरा […]

Read More

Waiting for love Hindi Poem – इंतज़ार

दिल तेरा हर पल इंतज़ार कर रहा है ये तेरा हाल जानने के लिये हर पल मर रहा है उसे नहीं पता तू मेरे बारे में सोच रहा होगा कि नहीं पर हर घड़ी वो तुझे ही याद कर रहा है तू कहाँ है इस दिल को नहीं पता तू कब मिलेगा इस दिल को […]

Read More