Miss You Love Poem – आंसू भी तेरे हैं इश्क़ भी तेरा

alone-666078_960_720

आंसू भी तेरे हैं इश्क़ भी तेरा
अब तो हर वक़्त आंसू ही बहते हैं
शिकवा आंसुओ से भी नहीँ
न तुझसे, क्योंकि मुहब्बत तुझसे है
और आंसू भी तेरे हैं इश्क़ भी तेरा
गिला करूँ तो किससे?

गौरव

Aansu bhi tere hain ishq bhi tera
Ab to har bakat aanshu hi bhte hai
Shikwa aanso se bhi nai
Na Tujhse kyuki mhobbat tujhse hai
Aansu bhi tere hai ishq bhi tera
Gilla karu to kisse

-Gaurav

Hindi Love Poem – दिल के पास कहीं

heart-1137259_960_720

आज रहने दे दिल के पास कहीं,
कल सुबह कहीं कल रात कहीं,
कल कहीं गगन मेरा होगा,
कोई नया चमन तेरा होगा,
फिर न जाने कब हो मिलान कहीं,
आज रहने दे दिल के पास कहीं,
कल मैं तन्हा हो जाऊंगा,
खुद से रुसबा हो जाऊंगा,
क़ोई नया साथ तेरा होगा,
आँसू का साथ मेरा होगा,
फिर न जाने कब हो साथ कहीं,
आज रहने दे दिल के पास कहीं,
कल घना अँधेरा छाएगा,
एक इश्क़ फना हो जायेगा,
कोई रहवर नया तेरा होगा,
मौत हमसफ़र मेरा होगा,
फिर मिलना होगा कभी नहीं,
आज रहने दे दिल के पास कहीं।

-गौरव

Aaj rahne de dil k pas kahi,
Kal subah khi kl rat kahi
Kal kahi gagn mera hoga
Koi nya chamn tera hoga
Fir na jane kab ho milan kahi,
Aaj rhne de dil k pas kahi
Kal main tnha ho jauga
Khud se ruswa ho jauga,
Koi nya sath tera hoga
Aansu ka sath mera hoga ,
Fir na jane kab ho sath kahi,
Aaj rhne de dil k pas kahi
Kal gahra andhera chahyega
Ek ishq fnna ho jayega
Koi rhbar nya tara hoga
Mauth hmsafer mera hoga
Fir milna hoga kabhi nahi
Aaj rhne de dil k pas kahi

-Gaurav

Hindi Love Story – मेरी कहानी

young-people-412041_960_720

आज में अपना सब कुछ गवाए बैठा हूँ ,
जाने कौन-कौन से दर्द सीने से लगाये बैठा हूँ ,
ठोकरे और रुस्वाइयां मिलने के बावजूद भी
कुछ यादो को दिल के आइनों में छुपाये बैठा हूँ ,

अश्कों की बरसात होती ही रहती है इन आँखों में,
फिर भी इनमे कुछ हसीं सपने सजाये बैठा हूँ ,
मिले कांटे ही हमें जिस राह पैर भी चले हम
में ज़माने की हर राह को आजमाए बैठा हूँ ,

निग़ाहें मिलायी थी हमने तुमसे वफा की चाह में ,
वफा के बदले सीने पर अपने जखमो को खाए बैठा हूँ ,
किसी कीमत पर नहीं झुका सिर मेरा कभी किसी के आगे
बस तेरे लिए ही इसे कब से झुकाये बैठा हूँ ,

कही लग न जाये काँटा कोई तेरे पाव में ,
इसलिए रास्तो पर तेरे कलिया फैलाये बैठा हूँ ,
सिर्फ तुम्हारा प्यार पाने के खातिर
में ज़माने के बाकि सारे सुखो को ठुकराये बैठा हूँ ,

कभी तो आकर देख ले एक बार ,
तेरी यादो में , मै खुद को लुटाए बैठा हूँ ,
बस तेरे प्यार का ही कर्ज बाकी है मुझपर
वरना ज़माने के हर कर्ज को चुकाए बैठा हूँ ,

खुद भी न जाने ‘कब उठ जाये अर्थी मेरी’ ,
बस तेरे इन्तेजार मै दिल को सजाये बैठा हूँ ,

-नीरव

Aaj me apna sab kuch gabayein betha hoon
Jane kon kon se dard sine se lgaye betha hoon
Thokre aur ruswai milne k babjud bhi
Kuch yado ko dil k aaeno mein chupaye betha hoon

Ashko ki barsat hoti rhti hai en aankho mein
Fir bhi enme kuch hasi spne sjaye betha hoon
Mile kante hi jis rah pr bhi chle hum
Main jmane ki har rah ko ajmaye betha hoon

Nigaahe milayi thi hmne tumse bfa ki chah mein
Bffa k badle apne sine pr apne jkhmo ko khaye betha hoon
Kisi kimat par nai jhuka seer mera kbhi kisi k aage
Bas tere lye hi ese kab se jhukaye betha hoon

Khi lag na jaye koi kanta tere paw mein
Eslye rasto par tere kliyaan falaye betha hoon
Sirf tumahra pyara pane k khatir
Main jmane k baki sare sukho ko thukare betha hoon

Kabhi to aa kar dekh le ek bar
Teri yado mein main khud ko lutaye betha hoon
Bas tere pyar pyar ka hi karj baki hai mujpar
Vrna jamane kei har karj ko chukaye betha hoon

Khud bhi na jane kb uth jaye arthi meri
Bas tere entejar me dil ko sajaye betha hoon

 –Neerav 

Hindi Love Poem – कुछ कहना चाहता हूँ

roman

जीवी तुझसे कुछ कहना चाहता हूँ
सुन लेना धड़कनों की आवाज़ मैं दिल से बोलना चाहता हूँ
मिले थेय जब हम एक सपना सा लगा था
और आज मैं उस सपने को हक़ीक़त मैं बदलना चाहता हूँ
बस मैं बस तुझसे कुछ कहना चाहता हूँ

कुछ कुछ हो या ना हो
लेकिन जब तू सामने होती है
और मीठी मीठी आवाज में बोलती है
बस दिल उछल पड़ता है
और सनसनाहट सी छा जाती है
बस तजसे कुछ नहीं चाहता हूँ
प्यार में तो दुनिया मरती है
पर मैं तेरे साथ जीना चाहता हूँ

तेरी एक एक बात दिल को छू जाती है
मैं सुनता रहता हूँ इस मोह है
और तेरा चेहरा कुछ यु बताता हूँ
मैं सपनो में अपनी पलकों पे हुँ
तू दूर है मुझसे क्या हुआ
तेरी फोटो से दिल बहलाता रहता हूँ
मैं तुझे हर रत सपने में देखता रहता हूँ

किसी एंजेल से कम नहीं लगती
बस तेरा दीदार करता रहता
जीवी योगेश आज तुझसे कुछ कहना चाहता है
तुझे अपनी जान से भी ज्यादा प्यार करता है
जो कुछ कहना था मुझे
सब कह चूका
दिल क राज़ खोल चूका
अब बस तेरी हाँ जरुरत है
समझ जाना दिल बड़ा नाजुक है
कुछ भी कर बैठेगा क्योंकि इसे तेरी जरुरत है
बस इतना कहना चाहता हूँ
की मैं बस मेरी जिंदगी तेरे साथ रहना चाहता हूँ

– योगेश जमदगनी

Jeevi M tujhse kuch kehna chahta hu,
sun lena dhadkano ki awaj m dil s bolna chahta hu,
mile the jb hm ek spna sa lga tha,
aur aj m us spne ko hakikat m bdlna chahta hu,
bs m bs tujhse kuch kehna chahta hu….

kuch kuch ho ya na ho,
lekin jb tu samne hoti h,
aur meethi meethi awaj m bolti h,
bs dil uchal pdta h ,
aur sansanahat si chaa jati h,
bs tujhse kuch ni chahta hu,
bs tere sath jindgi ka hr lmha gujarna chahta hu,
bs aj m tujhse kuch kehna chahta hu,
pyar m to duniya marti h,
pr m tere sath jeeena chahta hu….

teri ek ek bat dil ko chu jati h,
m sunta rehta hu bs moh jati h,
aur tera chehra kuch yu btata hu,
m spno m apni palko p jo sajata hu,
tu dur h mujhse kya hua,
teri photo s dil behlata rehta hu,
m tujhe hr raat spne m dekhta hu,

kisi angel s km ni lgti ,
bs tera deedar krta rehta
Jeevi Yogesh aj tujhse kuch kehna chahta h,
tujhe apni jaan s bhi jyada pyar krta h,
jo kuch kehna tha mujhe,
sb keh chuka,
dil k raaz khol chuka,
ab to bs teri haan ki jrurat h,
smjh jana bs dil bda najuk h,
kuch bhi kr baithega kyunki ise teri jrurat h…

bs itna hi kuch kehna chahta hu,
m bs meri jindgi tere sath rehna chahta hu….

-Yogesh Jamdagni

Hindi Poem for Love – वो आये हमारी जिंदगी में इस तरह

sc

वो आये हमारी जिंदगी में इस तरह
की हमें खुद से मिला दिया
हमने पूछा उस से की क्या न्यौछावर करें आप पे
तो आके उन्होंने धीमे से मेरे कानो में कहा
मुझे सिर्फ आप चाहिये जिंदगी जीने के लिये

– रुबी ग्रोवर

Wo aaye hamari jindagi mein is tarah …
ki hamein khud se mila diya…
hamne pocha us se ki kya nyauchaavar karein ap pe…
to aake unhone dheeme se hamare kaano mai kha….
Muje sirf aap chaiye jindagi jeene ke liye…

– Ruby Grover

Hindi Love Poem on Separation – तेरी जुदाई

girl-429380_960_720

तेरी जुदाई तेरी रुस्वाई सह न पाऊँ मैं
हर पल कुछ याद दिलाता है
गहरा सा नशा तेरी यादों में
हर शाम को दिया जलती हूँ तेरी याद में
वो पलके नम हो जाती है
जो भीगी थी कभी तेरी याद में,
मुस्कुराता हुआ तेरा चेहरा मुझसे प्यार जताता है
पलके मेरी तेरी बाँहों में भीग सी जाती है
तेरी यादों का एक मेला हर पल रंग दिखता है
भरी महफ़िल में भी तन्हाई याद दिलाती है

-कविता परमार

Teri judai teri ruswai seh na pau me,
Har pal kuch yad dilata hai,
Gehra sa nasha hai teri yado me,
Har sham ko diya jalati hu teri yad me,
Wo palkein num ho jati h,
Jo bheegi thi kabhi teri yaad me,
Muskurata hua tera chehra mujse pyar jatata hai,
Palkein meri teri baho me bheeg si jati hai,
Teri yado ka ek mela har pal rang dikhata hai,
Bhari mehfil me bhi tanhai yad dilati hai..

-Kavitha Parmar

Hindi Love Poem for her – तेरा झुमका

indian-622358_960_720

हाय रे हाय तेरा झुमका
झूमे जाये तेरा झुमका
नींद उड़ाये तेरा झुमका
चैन चुराये तेरा झुमका
गली से जब भी गुज़रे
मुझको लुभाये तेरा झुमका
धूप में ये भी चमके
बिजली गिराये तेरा झुमका
हाय रे हाय तेरा झुमका

– अनुष्का सूरी

English Translation:

Oh my my, your dangler
It keeps on swinging -your dangler
It has stolen my sleep – your dangler
It has stolen my calm – your dangler
Whenever you pass by
Your dangler attracts me towards you
In bright sunlight, your dangler also glows
It fascinates me – your dangler
Oh my my, your dangler

– Anushka Suri

Haye re haye tera jhumka
Jhume jaye tera jhumka
Neend udaye tera jhumka
Chain churaye tera jhumka
Gali se jab bhi tu guzre
Mujhko lubhaye tera jhumka
Dhoop mein ye bhi chamke
Bijli giraye tera jhumka
Haye re haye tera jhumka

– Anushka Suri

Gold White Brass Jhumka Earring

Bollywood Ethnic Jhumka

Hindi Shayari for Wife – कितनी प्यारी

wife poem

तुम हो कितनी सुँदर
तुम हो कितनी प्यारी
तभी तो बनाया तुमको
मैंने बीवी हमारी
हंसती हो जैसे हो फुलवारी
सारी पहनके लगती कितनी न्यारी
बोल तुम्हारे मीठे
जैसे हो शहद की धारी 
बाल तुम्हारे घने काले
जैसे हो जंगल बाड़ी
अच्छा अब कह दूँ तुमको
ई लव यू प्यारी

-अनुष्का सूरी

Tum ho kitni sundar
Tum ho kitna pyari
Tabhi to banaya tumko
Maine biwi hamari
Hasti ho jaise ho phulwari
Sari pehanke lagti kitni nyari
Bol tumhare meethe
Jaie ho shehad ki dhari
Bal tumhare ghane kale
Jaise ho jungal badi
Acha ab keh du tumko
I love you pyaari

-Anushka Suri

Miss You Love Poem – एक रोज़

sad

एक रोज़ तुझे याद करना है
एक रोज़ तेरे सपनो में रहना है
एक रोज़ मैं तुझे चूरा ले जाऊँ
एक रोज़ तेरी साँसों में जीना है

एक रोज़ वो शाम होगी
एक रोज़ चांदनी मेरे साथ होगी
एक रोज़ मैं तुझे पलकों पर सजा लूँ
एक रोज़ वो हसीन मुलाक़ात होगी

एक रोज़ ख्वाबों का सिलसिला होगा
एक रोज़ तेरी यादों का मेला होगा
एक रोज़ मैं तुझें सबसे छुपा लूँ
एक रोज़ मीठी बातों का कहना होगा

एक रोज़ प्यार की हमारी कहानी होगी
एक रोज़ फिर ये दुनिया अपनी दीवानी होगी
एक रोज़ तेरे पहलू में संवर जाऊँ
एक रोज़ अपनी ये जन्‍नत सुहानी होगी

एक रोज़ तेरे लिए लिखना है
एक रोज़ तेरे लिये जीना है
एक रोज़ मैं साथ रहने की कस्में खाऊँ
एक रोज़ फिर भी तेरे लिए मरना है

एक रोज़ तुझे याद करना है
एक रोज़ तेरे सपनो में रहना है

-योगेश जमदागनी

Ek roj tujhe yad krna h,
ek roj tere spno m rehna h,
ek roj m tujhe chura le jau,
ek roj Teri sanso m jeena h..

Ek roj wo sham hogi,
ek roj chandni mere sath hogi,
Ek roj m tujhe palko pr sja Lu,
ek roj wo haseen mulaqat hogi..

Ek roj khwabo ka silsila hoga,
ek roj Teri yadoo ka mela hoga,
ek roj m tujhe sbse chupa Lu,
Ek roj meethi baton ka kehna hoga..

Ek roj pyar ki hmari kahani hogi,
ek roj fir ye duniya apni deewani hogi,
ek roj tere pehlu me m sanwar jau,
ek roj apni ye jannat suhaani hogi..

Ek roj tere liye likhna h,
ek roj tere liye jeena h,
ek roj m sath rehne ki kasmein khau,
ek roj fir bhi tere liye mrna h,

ek roj tujhe yad krna h ,
ek roj tere spno m rehna h..

-Yogesh Jamdagni