Hindi Love Poem – Kuch Kehna Chahta hu


roman

जीवी तुझसे कुछ कहना चाहता हूँ
सुन लेना धड़कनों की आवाज़ मैं दिल से बोलना चाहता हूँ
मिले थेय जब हम एक सपना सा लगा था
और आज मैं उस सपने को हक़ीक़त मैं बदलना चाहता हूँ
बस मैं बस तुझसे कुछ कहना चाहता हूँ

कुछ कुछ हो या ना हो
लेकिन जब तू सामने होती है
और मीठी मीठी आवाज में बोलती है
बस दिल उछल पड़ता है
और सनसनाहट सी छा जाती है
बस तजसे कुछ नहीं चाहता हूँ
प्यार में तो दुनिया मरती है
पर मैं तेरे साथ जीना चाहता हूँ

तेरी एक एक बात दिल को छू जाती है
मैं सुनता रहता हूँ इस मोह है
और तेरा चेहरा कुछ यु बताता हूँ
मैं सपनो में अपनी पलकों पे हुँ
तू दूर है मुझसे क्या हुआ
तेरी फोटो से दिल बहलाता रहता हूँ
मैं तुझे हर रत सपने में देखता रहता हूँ

किसी एंजेल से कम नहीं लगती
बस तेरा दीदार करता रहता
जीवी योगेश आज तुझसे कुछ कहना चाहता है
तुझे अपनी जान से भी ज्यादा प्यार करता है
जो कुछ कहना था मुझे
सब कह चूका
दिल क राज़ खोल चूका
अब बस तेरी हाँ जरुरत है
समझ जाना दिल बड़ा नाजुक है
कुछ भी कर बैठेगा क्योंकि इसे तेरी जरुरत है
बस इतना कहना चाहता हूँ
की मैं बस मेरी जिंदगी तेरे साथ रहना चाहता हूँ

– योगेश जमदगनी

Jeevi M tujhse kuch kehna chahta hu,
sun lena dhadkano ki awaj m dil s bolna chahta hu,
mile the jb hm ek spna sa lga tha,
aur aj m us spne ko hakikat m bdlna chahta hu,
bs m bs tujhse kuch kehna chahta hu….

kuch kuch ho ya na ho,
lekin jb tu samne hoti h,
aur meethi meethi awaj m bolti h,
bs dil uchal pdta h ,
aur sansanahat si chaa jati h,
bs tujhse kuch ni chahta hu,
bs tere sath jindgi ka hr lmha gujarna chahta hu,
bs aj m tujhse kuch kehna chahta hu,
pyar m to duniya marti h,
pr m tere sath jeeena chahta hu….

teri ek ek bat dil ko chu jati h,
m sunta rehta hu bs moh jati h,
aur tera chehra kuch yu btata hu,
m spno m apni palko p jo sajata hu,
tu dur h mujhse kya hua,
teri photo s dil behlata rehta hu,
m tujhe hr raat spne m dekhta hu,

kisi angel s km ni lgti ,
bs tera deedar krta rehta
Jeevi Yogesh aj tujhse kuch kehna chahta h,
tujhe apni jaan s bhi jyada pyar krta h,
jo kuch kehna tha mujhe,
sb keh chuka,
dil k raaz khol chuka,
ab to bs teri haan ki jrurat h,
smjh jana bs dil bda najuk h,
kuch bhi kr baithega kyunki ise teri jrurat h…

bs itna hi kuch kehna chahta hu,
m bs meri jindgi tere sath rehna chahta hu….

-Yogesh Jamdagni

Advertisements

About hindilovepoems

Official Publisher for poetry on hindilovepoems.com
This entry was posted in Hindi Love Poem, Hindi Love Poem Expressing Love, Hindi Love Poem For Her, Hindi Love Poems by Readers, Hindi Love Shayari for Her and tagged , , . Bookmark the permalink.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s