Hindi Love Poem on Her Beauty – सुन्दर

blue_eyes___blue_eyes___-wallpaper-1366x768

सुन्दर है सुन्दर
सबसे वो सुन्दर
बहार अंदर
दोनों से सुन्दर
सूरत से सुन्दर
दिल से भी सुन्दर
ऐसी मनोहर
ऐसी वो सुन्दर
आँखें नशीली
आँखों में काजल
ज़ुल्फ़ें काली
ज़ुल्फ़ों पे आँचल
हाथों के कंगन
कंगन में मेरा मन
उफ़
सुन्दर वो सुन्दर
सबसे वो सुन्दर

  • अनुष्का सूरी

Hindi Love Shayari for Her- चाँद

moonlight_7-wallpaper-1366x768

चाँद जब धरती पर उतर आता है
तब कहाँ किसी से होश संभल पाता है
देखते हैं चाँद को प्यार से
प्यार से प्यार बढ़ता जाता है
चाँद की चांदनी करती है दिल को रौशन
रौशन रात रौशन चित्त रौशन मन
चाँद कहाँ ज़मीन पर टिक पता है
कुछ ही पलों में आकाश में चला जाता है
रह जाती हैं कुछ यादें कुछ पल
हमने जो बिताये थे चाँद के साथ कल

-अनुष्का सूरी

English Translation:

When the moon steps down on earth

At that moment, who is able to stay in his senses?

One looks at the moon with love

With love, love keeps multiplying

Moon’s moonlight makes one’s heart glow

Night glows, heart glows, mind glows

Moon is unable to stay on earth

In few seconds it vanishes into the sky

It leaves behind some memories, some moments

That we had spent with the moon yesterday.

-Anushka Suri

 

 

Hindi Love Shayari for Valentine -दिल की किताब

neverland_vacation-wallpaper-1366x768

मेरे दिल की किताब में
मैंने तुझे सजाया
मेरी हर याद में
मैंने तुझे बसाया
मेरी हर फरियाद में
बस तेरा नाम आया
दिन में रात में
तेरा ख्याल आया
धूप में बरसात में
सामने तुझे पाया
ख़ुशी में गम में
तूने साथ निभाया
अब मेरी ज़िन्दगी में
मैंने तुझे हमसफ़र बनाया

-अनुष्का सूरी

English Translation:

In my heart’s book

I placed you with dignity

In my each memory

I missed you

In my every prayer

Only your name came

In day In night

I only thought about you

In sunshine, in rain

I found you besides me

In happiness, in sorrow

You stood besides me

Now in my life

I chose you as my soulmate

-Anushka Suri

 

Hindi Love Shayari for Her – एक ख्वाब

girl_with_headphone___by_cs9_fx_design-wallpaper-1366x768

दिल ने देखा एक ख्वाब
ख्वाब में थी तुम
हाँ तुम, तुम

तुम्हारा सुन्दर भोला चेहरा
ज़ुल्फ़ों का कुछ रंग सुनहरा
देख के तुझको दिल बेचारा
हो गया तेरा, हाँ बस तेरा

नींद जब खुली मेरी जाना
तब ये जाना तूने न जाना
मैं तो हूँ तेरा आशिक़
क्यों तुझसे हूँ बेगाना

तू ही मेरी रूह की राहत
तू ही मेरी पहली चाहत
काश हो जाये ऐसी रहमत
तू मिल जाये मुझको जन्नत

दिल ने देखा एक ख्वाब
ख्वाब में थी तुम
हाँ तुम, तुम

-अनुष्का सूरी

Hindi Poem on Vasant Panchmi-आया बसंत

DSC_0023

देखो देखो आया बसंत
हाँ हाँ आया बसंत
चारों तरफ खिले
फूल अनंत
आया बसंत
सर्दी का अब तो
होना है अंत
हाँ हाँ आया बसंत
धरती है सजी
पीली पीली चादर में
आया बसंत
पक्षी चहचहाने लगे
गीत गुनगुनाने लगे
आया बसंत
हाँ आया बसंत
प्रेम में हो गए
हम तो पडंत
आया बसंत
हाँ आया बसंत
नाचो घुमो
मज़े में झूमो
आया बसंत

-अनुष्का सूरी

Love Shayari on New Year-इज़हार

नए साल के नए दिन
मैं यही इज़हार करता हूँ
मैं कल भी तुमसे प्यार करता था
आज भी तुम पर ही मरता हूँ

तुम मुझे याद करो या भूलो
मैं तो बस तुम्हें पूजा करता हूँ
मैं कल भी तुमसे प्यार करता था
आज भी तुम पर ही मरता हूँ

तुम मेरे दिल में यूं समायी हो
जैसे फूलों में खुशबू छायी हो
मैं कल भी तुमसे प्यार करता था
आज भी तुम पर ही मरता हूँ

खुदा से आज भी रोज़ मैं
बस तुमको ही माँगा करता हूँ
मैं कल भी तुमसे प्यार करता था
आज भी तुम पर ही मरता हूँ

-अनुष्का