Hindi Love Poem -खत संभाल के रखें हैं

तन्हाई में जो लिखे तुझे खत
वो खत संभाल के रखें हैं
दिल की गहराइयों की स्याही से जो लिखे तुझे खत
वो खत संभाल के रखें हैं
जो पल पल मेरा दिल धडकाते हैं
वो खत संभाल के रखें हैं
चाहा तुझे दिलो जान से जो जता न पाये
वो प्यार के जज़्बात से लिखे खत
संभाल के रखें हैं

2 thoughts on “Hindi Love Poem -खत संभाल के रखें हैं

  1. manjil ko talaste talaste ek raah mil gyi..khubsurat raaho pe dil ko jo choo gyi wo chawb mil gyi..tera pyr jise dhudta rha barso..us bhatke hue mere dil ko tere pyr ki khubsurat raah mil gyi.

  2. uara katra doob gya tere pyar main wo roohani andaj mil gya…barso se bhatak rha tha jo tere pyar main wo haseen khwb mil..ab to lgta h sma jaun tere aagosh main..bichad gya tha jo tera ek sth mujhse aj tujhe pake wo haseen sth mil gya.

Leave a Reply to gaurav gd Cancel reply